दूसरी बार कॉल आई तो देना पडे़गा 2 लाख का जुर्माना

Posted By: Staff

दूसरी बार कॉल आई तो देना पडे़गा 2 लाख का जुर्माना

मोबाइल फोन पर अनचाही कॉल से आज हर मोबाइल ग्राहक पीडि़त है न चाहते हुए भी आपको मोबाइल पर आ रही कॉल रीसीव करनी पड़ती है। हालाकि इसके लिए ट्राई ने नेशनल कस्‍टमर प्रिफेन्‍स रजिस्‍टर में अपना फोन नम्‍बर रजिस्‍टर कर के अनचाही कॉलों से छुटकारा पा सकते हैं या फिर 1909 पर डीएनडी टाइप करके एसएमएस के जरिए भी अनचाही कॉल को ब्‍लाक कर सकते हैं।

सरकार ने 12 अक्‍टूबर 2007 में नेशनल डू नॉट कॉल (एनडीएनसी) रजिस्ट्री की शुरुआत की थी इसके द्वारा टेलिमार्केटिंग कंपनियों और ग्राहकों के बीच सभी तरह की कॉल और एसएमएस फिल्‍टर हो कर पहुंचते हैं। आकड़ो पर नजर डाले तो ट्राई के अर्तगत बने अब तक 130.21 मिलियन लोगों ने अपना फोन नम्‍बर नेशनल कस्‍टमर प्रिफेंस रजिस्‍टर (एनसीआरपी) में दर्ज करा चुके है मगर इसके बावजूद लोगों को पूरी तरह से अनचाही कॉलों से छुटकारा नहीं मिला।

अगर नियम देखा जाए तो डू नॉट डिस्‍टर्ब के बावजूद अगर किसी तरह कर कॉल ग्राहक के पास आती है तो कंपनी के उपर 25 हजार रूपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है वहीं दूसरी बार भी कॉल आती है तो 75 हजार तक का जुर्माना वसूला जा सकता है। हाल ही में नियम में कुछ नए फेरबदल किए गए है जिसके तहत जुर्माने की रकम को बढ़ा दिया गया है नए नियम के तहत जुर्माने की रकम अब 2 लाख रूपए तक कर दी गई है।

इसके अलावा अगर आप चाहे तो अपने फोन में कई एप्‍लीकेशन के द्वारा भी अनचाही कॉल को बंद कर सकते है, कई फोन में ब्‍लैकलिस्‍टेट फीचर दिया गया होता जिसमें अनचाही कॉल का नम्‍बर सेव करने से उस नम्‍बर कर कॉल से छुटकारा मिल जाता है इसके अलावा कई एंड्राएड एप्‍लीकेशन भी ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते है जो अनचाही कॉल को ब्‍लाक कर देती है।

Please Wait while comments are loading...
नए साल पर किया गया ये छोटा सा काम, देगा साल भर की खुशियां
नए साल पर किया गया ये छोटा सा काम, देगा साल भर की खुशियां
Gujarat Assembly Election 2017: गुजरात में 6 बूथों पर दोबारा मतदान , जिग्नेश मेवाणी ने कहा-एग्जिट पोल बकवास है
Gujarat Assembly Election 2017: गुजरात में 6 बूथों पर दोबारा मतदान , जिग्नेश मेवाणी ने कहा-एग्जिट पोल बकवास है
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot