भारत में पहल करने वाली 9 विदेशी कम्‍पनियां

Written By:

    कई ब्रांड, भारत में अपनी पहुँच बना चुके हैं और लगातार इसके प्रयास में लगे हुए हैं। यहां तककि मेक इन इंडिया के सफल प्रयासों के तहत, कुछ विदेशी कम्‍पनियां भारत में ही अपना बाजार स्‍थापित करने के लिए रणनीतियों को तैयार कर रही हैं।

    भारत में पहल करने वाली 9 विदेशी कम्‍पनियां

    रिलायंस जियो ईकेवाईसी एक्टिवेशन, 15 मिनट में एक्टिवेट करें अपना 4जी जियो सिम

    हाल ही में ली इको ने भारत में अपना बाजार बढ़ाने के लिए काम करना शुरू किया है जबकि नौ कम्‍पनियां पहले से ही ऐसा करने में लगी हुई हैं। आइए डालते हैं इन 9 कम्‍पनियों पर एक नज़र-

    नए स्मार्टफोन की बेस्ट ऑनलाइन डील्स के लिए यहाँ क्लिक करें

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    सैमसंग

    2006 से ही भारत में सक्रिय कम्‍पनी बन चुकी है। यह इंडिया में डिवाइस बेचने की सबसे बड़ी कम्‍पनी बन चुकी है। इस कम्‍पनी ने अपनी जड़ों को नोएडा में जमाया है।

    लोकल ब्रांड - माईक्रोमैक्‍स और कार्बन

    माईक्रोमैक्‍स और कार्बन, भारत में पली-बढ़ी कम्‍पनियां है। इनका व्‍यापार, तेलंगाना, महाराष्‍ट्र, राजस्‍थान से शुरू होकर पूरे भारत में फैल चुका है। मिडिल क्‍लास लोगों के लिए यह आज के समय में बेस्‍ट फोन माने जाते हैं।

    श्‍योअमी और जियोनी

    मेक इन इंडिया के तहत ये कम्‍पनियां भी भारत में अपना व्‍यापार जमाने के लिए दस्‍तक दे चुकी हैं। हाल ही में इनकी कई सीरिज व स्‍मार्टफोन को भारत में लांच किया गया।

    एलजी

    एलजी ने मेक इन इंडिया के तहत के7 और के10 को लांच किया है। इन फोन की कीमत, क्रमश: 9,500 रूपए और 13,500 रूपए है।

    अन्‍य ब्रांड

    अन्‍य ब्रांड जैसे ओईएम, विवो, ओप्‍पो और लावा आदि ने भी मेक इन इंडिया को सफल बनाने के लिए भारत को डिजीटल करने में सहायता प्रदान की है। अब तक लावा ने 1200 करोड़ का निवेश कर लिया है ताकि भारत में नया प्‍लांट लगाया जा सकें।

    लाभ

    इन कम्‍पनियों के इन प्रयासों से भारत की आर्थिक स्थिति में मजबूती आएगी और भारत को डिजीटल होने में सहायता मिलेगी। साथ जीडीपी आदि में सकारात्‍मकता आएगी। इसके अलावा, युवाओं को रोजगार मिलेगा।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    Several Smartphone brands have been really pushing hard in India. There are nearly 25 brands which locally manufacture their devices and there are many big players in that list.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more