घर बैठे कीजिए मोबाइल और इंटरनेट ऑनलाइन रीचार्ज

Posted By:

घर बैठे कीजिए मोबाइल और इंटरनेट ऑनलाइन रीचार्ज

जरा सोचिए अगर आप ऑफिस में हों और आपको मोबाइल से कुछ अर्जेट कॉल करनी है, लेकिन यह क्या आपके फोन में तो बैलेंस ही नहीं है। ऐसे में आप क्या करेंगे? बाहर किसी दोस्त को मोबाइल रिचार्ज करने के लिए बोलेंगे या ऑफिस के फोन का सहारा लेंगे। या फिर घर में कोई मनपसंद पिक्‍चर देख रहें हो और अचानक आपका डीटीएच रिचार्ज खत्‍म हो जाए।

इंटरनेट के इस यूग में अब शायद ही ऐसी कोई सुविधा हो जो न मिल सके। आज हम आपको एक ऐसी साइट के बारे में बताएंगे जिसकी मदद से न केवल आप अपने फोन में रिचार्ज कर सकेंगे बल्कि अपने डीटीएच और इंटरनेट कार्ड को भी रिचार्ज कर सकेंगे वो भी घर में बैठे-बैठे।

पढ़ें: ये हैं 9 रियल लेकिन अनोखे गैजेट

फ्रीचार्ज नाम की ऑनलाइन साइट की मदद से आप आसानी से अपने फोन, डीटीएच और इंटरनेट रिचार्ज कर सकते हैं, इतना ही नहीं आपको हर रिचार्ज पर आकर्षक ऑफर कूपन भी दिया जाएगा। मानलीजिए अगर आप अपने फोन में फ्रीचार्ज से 50 रुपए का रिचार्ज कर रहें तो आपको 50 रुपए का फ्री कूपन भी मिलेगा, साइट में यूजर मैकडॉनल्‍ड, क्रोमा, बरिस्‍ता, गोआईबीबो जैसे बड़े ब्रांड के कूपन दिए गए है जिन्‍में से यूजर अपनी पसंद का कूपन चुन सकता है।

मतलब 50 रुपए के रिचार्ज पर 50 रुपए का कूपन फ्री और 100 रुपए के रिचार्ज पर 100 रुपए का फ्री कूपन मिलेगा। हैं न आम के आम और गूठलियों के दाम भी। अगर  आप भी अपना फोन, इंटनेट कार्ड या फिर डीटीएच एकाउंट रिचार्ज करना चाहते हैं तो http://www.freecharge.in/ पर जाकर रिचार्ज कर सकते हैं।

साइट में रिचार्ज करने के लिए सबसे पहले आपको एक छोटा सा फार्म भरना होगा जिसमें आपके घर का पता और फोन नंबर पूछा जाएगा, यूजर के द्वारा चुना गया फ्री कूपन कोरियर सेवा से उसके पते पर 7 दिनों भेज दिया जाएगा।

पढ़ें: एक मोबाइल से दूसरे मोबाइल पर कैसे ट्रांसफर करें बैलेंस

Please Wait while comments are loading...
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
Opinion Poll

Social Counting