Subscribe to Gizbot

ट्रेन लेट होने पर रेलवे ने शुरू की नई योजना, 1 महीने में भेजे 33 एसएमएस

Posted By: ashutosh singh

भारतीय रेलवे लगातार अपडेट हो रहा है। हाल ही में भारतीय रेलवे ने एक बड़ा कदम उठाते हुए 3 नवंबर को एसएमएस योजना शुरू की थी। इस योजना के तहत ट्रेन लेट होने पर रिजर्वेशन कराने वाले यात्रियों को रेलवे की तरफ से एसएमएस के जरिए ट्रेन लेट होने की जानकारी मिलेगी। भारतीय रेलवे ने 3 दिसंबर तक 1 महीने के अंदर ही इस एसएमएस सर्विस में 33 लाख से ज्यादा पैसेंजर्स को एसएमएस भेजें हैं।।

आपको बता दे कि रेलवे ने ये सेवा 3 नवंबर को शुरू की थी, जिसमें 102 प्रीमियम ट्रेनों को जोड़ा गया था। इसमें राजधानी एक्सप्रेस की 23 ट्रेनें, शताब्दी ट्रेनें के 26 ट्रेनें और तेजस और गतिमान ट्रेन की एक-एक ट्रेन को शामिल किया गया है। इन ट्रेनों से यात्रा करने वाले यात्रियों को रेलवे ने 1 महीने के अंदर ही ट्रेन की जानकारी देने के लिए 33,08,632 मैसेज भेजे हैं।

ट्रेन लेट होने पर रेलवे ने शुरू की नई योजना, 1 महीने में भेजे 33 एसएमएस

रेलवे अपने इस सफल प्रयोग से काफी ज्यादा उत्साहित है। ऐसे में रेलवे के वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों पीटीआई से इस योजना की सफलता के बारे में बात करते हुए कहा कि हम आने साल में 148 अन्य प्रीमियम ट्रेनें को भी इस योजना में जोड़ देंगे, ताकि हम यात्रियों को एक बेहतर सुविधा दे सकें। उन्होंने आगे कहा कि हम कोशिश कर रहे है कि यात्री जल्द से जल्द रेलवे स्टेशन पहुंच कर अपनी ट्रेन पकड़ सके।

अगर खरीद रहे हैं नया स्मार्टफोन, तो इस हफ्ते लॉन्च हुए इन फोन पर डाल लें नजर

रेलवे अधिकारियों ने आगे बोलते हुए कहा कि हम ट्रेन की जानकारी हर घंटे उपलब्ध कराते है। हमारी कोशिश है कि हम हर तरह के वर्ग के लिए ये सेवा चालू रख सकें। सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम्स (सीआरआईएस) द्वारा विकसित इस सेवा के तहत, यात्रियों को इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए रिजर्वेशन स्लिप पर मोबाइल नंबर का उल्लेख करना होगा। लेकिन अगर आप सोच रहे है की ये सेवा देने के लिए रेलवे की भी तरह का अतिरिक्त शुल्क लेगा तो आप गलत हैं।

Paytm 12/12 Festival सेल में 50% का मिलेगा कैशबैक

एसएमएस सेवा एक नि: शुल्क लागत वाली सेवा है, जो पूरी तरह से रेलवे द्वारा संचालित होती है। हालांकि अभी ये सेवा सिर्फ प्रीमियम ट्रेनों के लिए ही है। इस ट्रेनों में एक और सुविधा मौजूद है, जिसमें अगर ट्रेन को रद्द या शेड्यूल किए जाने की भी जानकारी दी जाती है। इसमें रेलवे यात्रियों को ये जानकारों उन्हें एसएमएस भेज कर के देती है। वहीं अगर ट्रेन तीन घंटे से ज्यादा देर है, तो भी यात्री इसकी जानकारी मैसेज के जरिये हासिल कर सकते हैं।

English summary
Railways sends 33 lakh SMS alerts in a month about train delays. More detail in hindi.
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot