क्‍यों खरीदें नोकिया 203 फीचर फोन?

Posted By:

क्‍यों खरीदें नोकिया 203 फीचर फोन?

किसी भी फोन को खरीदते समय आपके मन में ये सवाल जरूर आता होगा आखिर ये फोन हम क्‍यों खरीदें। अगर आप भी नोकिया आशा 203 लेने जा रहें हैं उससे पहले हम आपको इसमें दिए गए कुछ ऐसे फीचर बताएंगे जिसकी वजह से ये दूसरे फोन से ज्‍यादा बेहतर है।

पढ़ें: 5,999 रुपए के अंदर हाल ही में लांच हुए टॉप 5 लेटेस्‍ट फीचर फोन

सबसे पहले बात करते हैं कंपनी की हर कोई ब्रांडेड फोन लेना चा‍हता है इंडिया में नोकिया एक काफी समय से फीचर फोन का किंग माना जाता रहा है। अगर आपको ध्‍यान हो तो अभी भी नोकिया इंडिया में लो कॉस्‍ट फोन के लिए जाना जाता है। अब अगर नोकिया आशा 205 की बात करें तो इसमें कई ऐसे फीचर दिए गए हैं तो 3,999 रुपए में किसी दूसरे फोन में मिलना मुश्‍किल है। साथ में क्‍वार्टी कीपैड ब्‍लूटूथ, 40 सीरीज सिम्‍बेइयन ओएस, साथ में नोकिया के बैटरी बैकप से तो आप वाकिफ ही होंगे।

आशा 205 उन लोगों के लिए बेहतर ऑप्‍शन है जो काफी मैसेजिंग करते हैं क्‍योंकि फोन का कीपैड काफी चौड़ा हैं।

नोकिया आशा 205 में दिए गए फीचरों पर एक नजर

  • 2.4 इंच की स्‍क्रीन, 55 के कलर सपोर्ट, टीएफटी डिस्‍प्‍ले

  • जीएसएम सपोर्ट

  • जीपीआरएस

  • 2.1 ब्‍लूटूथ, 3.5 एमएम एवी कनेक्‍टर

  • 10 एमबी फ्री यूजर मैमोरी, 32 जीबी माइक्रोएसडी कार्ड सपोर्ट

  • वीजीए कैमरा

  • 40 सीरज ओएस

  • क्‍वार्टीकी पैड

  • 94.0 ग्राम भार

  • 37 दिनों का स्‍टैंडबॉय टाइम, 11 घंटे का टॉक टाइम (सिंगल सिम सपोर्ट)

  • 25 दिनों का स्‍टैंडबॉय टाइम, 11 घंटे का टॉक टाइम (ड्युल सिम सपोर्ट)
 

पढ़ें: नोकिया के 114 ड्युल सिम फोन से टक्‍कर लेंगे ये 5 महारथी

 

देखें वीडियो कैसा दिखता है आशा 205 

 

Please Wait while comments are loading...
बुलेट ट्रेन को हिंदी में क्‍या कहते हैं, इस सवाल पर गुस्‍सा गए अरुण जेटली
बुलेट ट्रेन को हिंदी में क्‍या कहते हैं, इस सवाल पर गुस्‍सा गए अरुण जेटली
JNU में भी मां दुर्गा को कहा गया था 'सेक्स वर्कर', जिसने हनीमून मनाने के बाद महिषासुर को मारा था
JNU में भी मां दुर्गा को कहा गया था 'सेक्स वर्कर', जिसने हनीमून मनाने के बाद महिषासुर को मारा था
Opinion Poll

Social Counting