10 कारण जिसकी वजह से एंड्रायड फोन आईफोन से ज्‍यादा बेहतर है

Posted By:

    आईफोन का नाम सुनते ही आपके मुहं में पानी आ जाता होगा, फिर भले ही आपके 40 हजार का एंड्रायड फोन क्‍यों न हो। वहीं एंड्रायड वालों के सामने आईफोन यूजर भी अपने आपको किसी तीस मार खा से कम नहीं समझते। मगर शायद आप इस बात से वाकिफ न हो एंड्रायड में ऐसी कई खूबियां हैं तो आईफोन में नहीं दी गई हैं।

    यानी अगर आप थोड़ा सा दिमाग लगाएं तो एंड्रायड यूजर किसी भी एपल यूजर से कम नहीं है। तो आईए जानते हैं एंड्रायड में दिए गए कुछ ऐसे फीचरों के बारे में जो आपको आईफोन में नहीं मिलेंगे।

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    Memory

    जब भी आप आर्इफोन खरीदने जाते हैं तो सबसे ज्‍यादा मैमोरी वला वर्जन ही लेते हैं मगर एंड्रायड में आपको मैमोरी की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं क्‍योंकि ज्‍यादातर एंड्रायड फोन में एक्‍पेंडेबल मैमोरी ऑप्‍शन होता है।

    Battery

    अगर आपके फोन की बैटरी खराब हो गई है या फिर सही से काम नहीं कर रही तो एंड्रायड में इसे आप बदल सकते हैं मगर आईफोन में बैटरी रिमूव करने का कोई ऑप्‍शन नहीं होता।

    Remote feature

    आपको हजारों एंड्रायड फोन में रिमोट का ऑप्‍शन मिल जाएगा मगर किसी भी आईफोन वर्जन में ये फीचर नहीं मिलेगा।

    Android files

    एंड्रायड फाइल स्‍क्रीनशॉट, डाउनलोड पिक्‍चर का अलग फोल्‍डर आपको एंड्रायड फोन में ही मिलेगा। आईफोन में इसके लिए काई भी अलग से फोल्‍डर नहीं बनता।

    Music option

    एंड्रायड यूजरों को ये चिंता नहीं रहती कि कहां से म्‍यूजिक आ रहा है। मगर आईओएस और एपल में केवल आईट्यून की म्‍यूजिक सुनने का एक उपाए है।

    USB cable

    एंड्रायड फोन को चार्ज करने के लिए आप कोई भी यूएसबी केबल यूज़ कर सकते हैं। मगर आईफोन सिर्फ अपनी ही केबल से चार्ज होता है।

    Downloding

    गूगल ऐप स्‍टोर में एप्‍स डाउनलोड करने के लिए आप सीधे गूगल प्‍ले से डाउनलोड कर सकते हैं मगर एपल आईट्यून में ऐप डाउनलोड करने के लिए आपको पहले उसे अपने पीसी में इंस्‍टॉल करना होगा।

    User account

    एंड्रायड फोन में आप एक साथ कई यूजर एकाउंट ओपेन कर सकते हैं जबकि आईफोन केवल एक ही एकाउंट से हैंडल होता है।

    Maps

    अगर आप मैप पर नजर डालेंगे तो एपल के मुकाबले गूगल मैप ज्‍यादा बेहतर दिखेगा।

    Lock

    आईफोन को ऑप फिंगरप्रिंट से अनलॉक करते हैं या फिर पासकोर्ड डालते हैं जबकि इससे ज्‍यादा आसान एंड्रायड फोन स्‍क्रीन लॉक होता है जो सिक्‍योर भी रहता है।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    When you buy an iPhone, you're stuck with as much storage as you decided to buy at the get go. Most Android phones, however, have a microSD card slot, so you can easily and cheaply buy more storage space.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more