मिलिये दुनिया के सबसे कम उम्र के ऐप डेवलपर से, 12 साल की उम्र में ऐप्स बनाकर बनाया गिनीज रिकॉर्ड

|

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book Of Record) में रिकॉर्ड बनाना बहुत ही मुश्किल है लेकिन कुछ ऐसे भी उदाहरण हैं जिन्होंने यह रिकॉर्ड कम उम्र में बनाये हैं। आज हम आपको जवाहर नवोदय विद्यालय में 8वीं कक्षा में पढ़ने वाले झज्जर, हरियाणा के कार्तिकेय जाखड़ (Kartikeya Jakhar) के बारे में बतायेंगे जो दुनिया के सबसे छोटे यानी सबसे कम उम्र के ऐप डेवेलपर हैं और उनका नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्द हो गया है।

 
मिलिये दुनिया के सबसे कम उम्र के ऐप डेवलपर से

जी हाँ, जवाहर नवोदय विद्यालय के आठवीं कक्षा के छात्र कार्तिकेय जाखड़ ने सिर्फ 12 साल की उम्र में कारनामा करते हुए ऐप्स बनाये और अब वो गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में शामिल हो गए हैं। इस लड़के ने बिना किसी मार्गदर्शन के तीन लर्निंग वेब एप्लिकेशन बनाये है। उपलब्धि के साथ-साथ वह अपनी प्रतिभा के लिए अमेरिका में हार्वर्ड विश्वविद्यालय (Harvard University) में भी अपना रास्ता बनाना चाहते हैं, ऐसा उन्होंने हिंदुस्तान टाइम्स के साथ बातचीत में कहा है।

कौन है कार्तिकेय जाखड़?

कार्तिकेय जाखड़ एक किसान परिवार से हैं। और उनके पिता ने कोविड -19 महामारी के दौरान उनकी ऑनलाइन कक्षाओं को अटेंड करने के लिए 10,000 रुपये का फोन दिलाया था। कार्तिकेय ने बताया कि कोडिंग प्रोसेस के दौरान फोन में कई समस्याएं झेलनी पड़ी लेकिन मैं काम करता रहा।

उन्होंने हिंदुस्तान टाइम्स के साथ बातचीत करते हुए बताया, मैंने तीन मोबाइल एप्लिकेशन बनाए है- जिसमें एक सामान्य ज्ञान की ऐप है जिसका नाम Lucent GK Online हैं, दूसरी कोडिंग और ग्राफिक डिजाइनिंग के लिए जिसे Ram Kartik Learning Center नाम है और तीसरी ऐप का नाम Shree Ram Kartik Digital Education हैं। ये ऐप फिलहाल 45,000 से ज्यादा छात्रों को फ्री ट्रेनिंग दे रहे हैं।

कार्तिकेय (Kartikeya Jakhar) ने बात करते हुए आगे कहा, "मुझे पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया कैम्पेन से प्रेरणा मिली। मैं भी देश की सेवा करना चाहता हूं।"

इतना ही नहीं, कार्तिकेय ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय के एंट्रेंस एग्जाम को भी पास करके स्कॉलरशिप जीती है और अब, कंप्यूटर विज्ञान में बी.एससी की पढ़ाई कर रहे हैं।

 
मिलिये दुनिया के सबसे कम उम्र के ऐप डेवलपर से

क्या कहा पिता ने?

HT के साथ बातचीत में इस 12 वर्षीय लड़के के पिता, अजीत जाखड़ ने कहा कि कार्तिकेय (Kartikeya Jakhar) ऑनलाइन क्लासेज के लिए जिस मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहा था उसकी स्क्रीन खराब हो गई है। लेकिन फिर भी जोश के साथ काम करता रहा और 3 ऐप्स बना दिये।

उन्होंने आगे कहा, "मैं सरकार से मेरे बेटे की मदद करने का अनुरोध करता हूं ताकि वह और अधिक एप्लिकेशन बनाकर आगे बढ़ सके। वह बहुत प्रतिभाशाली है। मैं चाहता हूं कि वह डिजिटल टेक्नोलॉजी में देश की सेवा करें। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भी उन्हें उनकी उपलब्धियों के लिए प्रेरित किया हैं।

 
Best Mobiles in India

Read more about:
English summary
12-YO Jhajjar Boy Enters Guinness Book Of Records As Youngest App Developer

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X