माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क हैक की साजिश में अंतर्राष्ट्रीय हैकर्स गिरफ्तार

Written By:

दिग्गज अमेरिकी सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क को हैक करने की साजिश के आरोप में दो अंतर्राष्ट्रीय हैकर्स को गिरफ्तार किया गया है। लोगों आरोपियों को खुफिया जासूसों ने ब्रिटेन में गिरफ्तार किया गया है। ब्रिटिश समाचार-पत्र 'द रजिस्ट्रार' में गुरुवार को प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, साउथ ईस्ट रिजनल ऑर्गेनाइज्ड क्राइम यूनिट (एसइआरओसीयू) स्थित जासूसी एजेंसी के जासूस अब माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क में जनवरी से मार्च के बीच हुई अवैध घुसपैठ की जांच कर रहे हैं।

माइक्रोसॉफ्ट नेटवर्क हैक की साजिश में अंतर्राष्ट्रीय हैकर्स गिरफ्तार

अखबार में छपी रिपोर्ट में एक जासूस के बयान में कहा गया, "यह समूह विश्वभर में फैला है। इसलिए, यह जांच हम अपने कई सहयोगियों जिनमें माइक्रोसॉफ्ट, एफबीआई, यूरोपोल और एनसीए की राष्ट्रीय साइबर अपराध शाखा शामिल हैं, के साथ मिलकर कर रहे हैं। हालांकि, एक 22 वर्षीय संदिग्ध को एक कंप्यूटर में अनधिकृत घुसपैठ के लिए गिरफ्तार किया गया है। एक अन्य 25 वर्षीय संदिग्ध को कंप्यूटर दुरुपयोग अधिनियम के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया है।"

रिपोर्ट के मुताबिक, खुफिया जासूसों ने कई इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को भी जब्त किया है। हालांकि, इसका पता नहीं चल सका है कि किस तरह की सूचना तक इन कथित साइबर हमलबारों को पहुंच हुई है। वहीं इस मामले पर माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि उसके किसी भी ग्राहक की सूचना से समझौता नहीं किया जाएगा।

माइक्रोसॉफ्ट ने एक बयान में कहा, "इंग्लैंड में अधिकारियों द्वारा की गई कार्रवाई एक महत्वपूर्ण कदम है। मजबूत इंटरनेट सुरक्षा साइबर अपराधियों की पहचान और उन पर मुकदमा चलाने की क्षमता पर निर्भर है।" माइक्रोसॉफ्ट ने कहा, "इसके लिए न केवल मजबूत प्रौद्योगिकी क्षमता की जरूरत है, बल्कि इस मामले को लोगों की जानकारी में लाना और इन्हें कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सौंपना भी जरूरी है।"

माइक्रोसॉफ्ट ने स्पष्ट किया, "साइबर अपराधी हमारे किसी भी ग्राहक के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके हैं और हमें हमारे साफ्टवेयर और सिस्टम की विश्वसनीयता पर पूरा भरोसा है। हमने इस तरह के हमलों को रोकने, पता लगाने और निपटने के लिए व्यापक उपाय किए हैं।"



Read more about:
English summary
Detectives in Britain have arrested two men in conspiracy to hack the Microsoft network according to a media report said.
Please Wait while comments are loading...
WhatsApp के जरिए बेची जा रही थीं लड़कियां, ऐसे हुआ खुलासा कि दंग रह गई पुलिस
WhatsApp के जरिए बेची जा रही थीं लड़कियां, ऐसे हुआ खुलासा कि दंग रह गई पुलिस
टॉइलट में जन्म के साथ ही फ्लश हो गई नवजात, 2 घंटे बाद सीवेज टैंक से जिंदा निकली
टॉइलट में जन्म के साथ ही फ्लश हो गई नवजात, 2 घंटे बाद सीवेज टैंक से जिंदा निकली
Opinion Poll

Social Counting