2011 में टेबलैट की रही धूम

Posted By:

2011 में टेबलैट की रही धूम

 

कंप्यूटिंग के मोर्चे पर बीता साल टेबलैट कंप्यूटर के नाम रहा। जहां 2010 में भारत में ड्यूल सिम फोन ने बाजार में धूम मचा रखी थी उसी तरह से वर्ष 2011 में टेबलैट की चर्चा का विषय रहा। जहां एप्पल, सैमसंग, रिसर्च इन मोशन रिम जैसी दिग्गज कंपनियों ने इस नये बाजार में हिस्सा पाने के लिए जी जान लगा दी।

बीते कुछ वर्षों में हर साल लगभग एक अरब मोबाइल फोन सालाना बिक रहे हैं लेकिन यह टेबलैट ही था जिसने बीते साल दुनिया के दूसरे सबसे बड़े दूरसंचार बाजार में हलचल मचाए रखी। चाहे वर्ह आइपेड, प्लेबुक हो या गैलेक्सी टेब अथवा दुनिया का सबसे सस्ता टेबलेट आकाश, हर उत्पाद की पेशकश इस बाजार में नयी लहर लेकर आई। इस समय बाजार में विभिन्न कीमत श्रेणी में अलग अलग उत्पाद मौजूद हैं।

फोस्ट एंड सुलिवेन के अनुसार भारतीयों ने 2011 में तीन लाख टेबलैट खरीदे जबकि 2010 में देश में 60,000 टेबलैट बिके थे। बीते साल जो प्रमुख कंपनियां अपने टेबलैट भारतीय बाजार में लाई उनमें एप्पल का बहुप्रचारित आइपैड, रिम का प्लेबुक, मोटोरोला का जूम, एचटीसी का फ्लायर, सैमसंग का गैलेक्सी शामिल है। घरेलू कंपनियों में रिलायंस कम्युनिकेशंस तथा बीटल टेलेटेक ने अपने अपने अपने टेबलैट पेश किए। पीसी कंपनियां लेनोवा, एचसीएल, आसुस,एसर व सोनी भी इस बाजार में उतर आई हैं।

Please Wait while comments are loading...
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
Opinion Poll

Social Counting