Subscribe to Gizbot

5 फीचर जिनकी वजह से OnePlus 5T है जरा हटके

Written By:

ओपरेटिंग सिस्टम को स्मार्टफोन की आत्मा कहा जा सकता है, जिसके बिना फोन किसी पेपर वेट की तरह होता है। यानी ओएस न सिर्फ फोन को चलाता है बल्कि उसके यूजर एक्सपीरियंस पर भी ओपरेटिंग सिस्टम का असर होता है। स्मार्टफोन लैब में कई स्मार्टफोन टेस्ट करने के बाद ये कहा जा सकता है कि स्मार्टफोन में ओपरेटिंग सिस्टम ही होता है, जो फोन के फेलियर और सक्सेस को डिसाइड करन में खास रोल रखता है।

OnePlus स्मार्टफोन एक अच्छे सॉफ्टवेयर की वजह से ही ग्लोबल मार्केट में अपनी जगह बनाने में सफल रहा है। कंपनी ने अपने फोन में टॉप हार्डवेयर का इस्तेमाल किया है और एंड्रॉइड के कस्टमाइज्ड वर्जन को फोन में इस्तेमाल किया है। एंड्रॉइड के कस्टमाइज्ड वर्जन में यूजर्स को फास्ट क्लिन और स्मूद एंड्रॉइड एक्सपीरियंस मिलता है।

5 फीचर जिनकी वजह से  OnePlus 5T है जरा हटके

वनप्लस अपने स्मार्टफोन में खुद का ओपरेटिंग सिस्टम OxygenOS इस्तेमाल करते हैं। ओक्सीजनओएस अपडेट साइकिल, सॉफ्टवेयर और एक्टेंसिव कस्टमाइज फीचर की वजह से पॉपुलर एंड्रॉइड ओपरेटिंग सिस्टम है। हाल ही में लॉन्च OnePlus 5T के ओएस में कंपनी ने कुछ शानदार फीचर्स शामिल किए हैं, जो इस फोन के यूजर्स का एक्सपीरियंस और भी शानदार बनाते हैं।

1 लाख का iphone X या फिर 40 हजार से कम वाला oneplus 5T

वैसे तो OxygenOS में कई सारे छोटे-बड़े फीचर्स शामिल हैं, जो इसे बेस्ट Android UI (एंड्रॉइड यूजर इंटरफेस) बनाते हैं, लेकिन यहां हम टॉप 5 उन फीचर्स की बात कर रहे हैं, जो इसे इस प्राइस कैटेगिरी में OnePlus 5T को जरा हटके स्मार्टफोन बनाता है। आइए जानते हैं इन फीचर्स के बारे में।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

फेस अनलॉक फीचर-

OnePlus 5T OxygenOS के लेटेस्ट वर्जन पर रन करता है, जो फेस अनलॉक फीचर के साथ आता है। बता दें कि ये इस ओएस में जुड़ा नया फीचर है, जिसकी मदद से यूजर्स अब अपने फोन में मौजूद डेटा को पहले से ज्यादा सिक्योर कर सकते हैं। यूजर्स सिर्फ फोन की तरफ देखकर ही अपने चेहरे से इसे अनलॉक कर सकते हैं। एंड्रॉइड मार्केट में फेस रिकॉग्नाइजेशन तकनीक काफी तेजी से आगे बढ़ रही है और वनप्लस के OxygenOS में ये तकनीक मौजूद है। फेस अनलॉक तकनीक 100 से ज्यादा बारीक डिटेल्स के जरिए इस फीचर को और ज्यादा सिक्योर बनाती है।

वनप्लस स्विच-

फोन का गुम हो जाना किसी बुरे सपने से कम नहीं होता है। नए फोन में पिक्चर, वीडियो और जरूरी डॉक्यूमेंट को ट्रांसफर करना काफी परेशानी भरा और मुश्किल का होता है। वनप्लस के ओएस ने इस काम को भी आसान बना दिया है। OxygenOS का ये रिसेंट फीचर है, जिसमें पुराने फोन से नए वनप्लस फोन में अपना डेटा आसानी से ट्रांसफर किया जा सकता है। इसके लिए आपको अपने फोन में migration ऐप इंस्टॉल कर QR कोड स्कैन कर आपको वो फाइन चुनना होगा, जिसे आप ट्रांसफर करना चाहते हैं। इसके जरिए आप कॉन्टेक्ट्स, मैसेज, कॉल लॉग, फोटो-वीडियो, ऑडियो और ऐप भी ट्रांसफर कर सकते हैं।

इस ऐप की खासियत है कि इसे इस्तेमाल करने के लिए आपके डेटा कनेक्टिविटी की जरूरत नहीं होगी। कंपनी इस ऐप में कुछ और नए फीचर शामिल करने की तैयारी कर रही है, जिसमें यूजर्स वाईफाई हिस्ट्री, कैमरा सेटिंग और ऐप्स डेटा भी शेयर कर सकेंगे।

ओपन बीटा प्रोग्राम-

सॉफ्टवेयर वनप्लस का एक अहम हिस्सा है, जिस पर कंपनी लगातार काम करती रही है। अन्य एंड्ऱॉइड ट्रेंड से अलग OxygenOS तीन अलग फोर्म्स में आता है, जो क्लोज बीटा, ओपन बीटा और ऑफिशियल रिलीज है। वनप्लस जनरल फीडबैक, बग रिपोर्ट और फीचर्स रिपोर्ट को डायरेक्ट यूजर्स से प्राप्त कर रिपोर्ट करता रहता है, जिससे इस सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म को यूजर्स के लिए और भी यूजफुल बनाया जा सके।

ऑक्सीजन ओएस में सबसे इंटरेस्टिंग है ओपन बीटा प्रोग्राम, जो कम्यूनिटी बिल्ड के साथ रिलीज हुआ है। इसमें यूजर्स ओएस में मौजूद हर फीचर और अपडेट को चैक कर सकते हैं। अगर यूजर बीटा प्रोग्राम में साइन अप करेंगे, तो उन्हें एक्सक्लूसिव फीचर्स मिलेंगे।

गेमिंग डू नॉट डिस्टर्ब फीचर-

अगर आप गेमर हैं, लेकिन फोन पर बार-बार आने वाले नोटिफिकेशन से परेशान है, तो वनप्लस के ऑक्सीजन ओएस का ये फीचर आपको जरूर पसंद आएगा। OxygenOS हमेशा अपने गेमिंग यूजर्स पर फोकस करता आया है। कंपनी ने अपने ओएस में इसके लिए एक मोड दिया है, जिस पर फोन सेट करने के बाद फोन में नोटिफिकेशन पॉज हो जाएंगे और यूजर्स बिना किसी डिस्टर्बेंस के गेम खेल सकेंगे।

इसके लिए आपको फोन की सेटिंग में जाकर एडवांस्ड ऑप्शन में जाकर गेमिंग डू नॉट डिस्टर्ब ऑप्शन चुनना होगा। इस ऑप्शन को एक बार इनेबल करने के बाद नोटिफिकेशन आना बंद हो जाएंगे, लेकिन आपने जरूरी कॉल्स और अलार्म को सुन सकेंगे। ये मोड ऑन करने पर फोन की स्क्रीन ज्यादा रियलस्टिक लगेगी, जो आपके गेमिंग और वीडियो के एक्सपीरियंस को बढ़ा देगी।

हर लेवल पर कस्टमाइजेशन-

एंड्रॉइड की खासियत ही कस्टमाइजेशन होता है और वनप्लस हैंडसेट से ज्यादा बेहतर कस्टमाइज एंड्रॉइड मिलना मुश्किल है। OxygenOS को आप शुक्रिया कहना चाहेंगे, जिसकी वजह से आप OnePlus 5T को हर तरह से अपनी जरूरत के हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं। फोन के बॉटम लेआउट से स्क्रीन कलर, फोन्ट, टायपोग्राफी, फोल्डर कलर, नोटिफिकेश स्टाइल और शेल्फ स्क्रीन तक आप अपने हिसाब से इसे कस्टमाइज कर सकते हैं। होम स्क्रीन का एड ऑन फीचर इसे आसान बनाता है। उपयोग में आसान यूजर इंटरफेस होने के बाद भी OxygenOS सबसे ज्यादा कस्टमाइज एंड्रॉइड स्कीन है, जो इस फोन को बाकी एंड्ऱॉइड स्मार्टफोन के मुकाबले जरा हटके स्मार्टफोन बनाता है।

अब जब आप इस वनप्लस 5 टी के टॉप 5 फीचर्स जान चुक हैं, तो बात करते हैं इसकी कीमत की। OnePlus 5T के 6 जीबी रैम वेरिएंट की कीमत 32,999 रुपए है। वहीं इस फोन के 8 जीबी रैम वेरिएंट की कीमत 37,999 रुपए है। 16 मार्च से 22 मार्च 2018 के बीच कस्टमर्स ICICI बैंक के क्रेडिट कार्ड से ईएमआई ट्रांजेक्शन के जरिए इस फोन को खरीदकर 1500 रुपए कैशबैक प्राप्त कर सकते हैं। ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेजन से इस फोन को खरीदने पर 2000 रुपए डिस्काउंट के साथ तक एक्सचेंज ऑफर मिल रहा है। इन सभी ऑफर्स के साथ वनप्लस के एक्सपीरियंस स्टोर से भी वनप्लस 5 स्मार्टफोन को खरीदा जा सकता है।

 


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
OnePlus 5T is not just about high-end hardware, the smartphone offers the best ever Android experience in the market for every kind of user.
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot