TikTok पर वीडियो बनाने पर लेडी दबंग को पुलिस ने किया सस्पेंड

|

TikTok की कोई ना कोई ख़बर रोज कहीं ना कहीं से आती है। अब एक और ख़बर सामने आई है। गुजरात पुलिस की एक महिला पुलिसकर्मी को पुलिस स्टेशन में टिकटॉक वीडियो बनाने की वजह से निलंबित कर दिया गया है। इस महिला पुलिसकर्मी का नाम अल्पिता चौधरी है। अल्पिता गुजरात के मेहसाणा जिले में स्थित लांघणज गांव के पुलिस स्टेशन में ड्यूटी के लिए तैनात हैं।

TikTok पर वीडियो बनाने पर लेडी दबंग को पुलिस ने किया सस्पेंड

 

TikTok पर वीडियो बनाने से सस्पेंड

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुजरात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि अल्पिता को ड्यूटी पर वर्दी ना पहनने और अनुशासन तोड़कर पुलिस लॉकअप के बाहर वीडियो रिकॉर्ड करके टिकटॉक पर अपलोड करने के लिए सस्पेंड किया गया है। अल्पिता पर हुई इस कार्यवाई का विरोध जताते हुए टिकटॉक यूज़र्स ने सोशल मीडिया पर काफी बातें लिखी है।

यह भी पढ़ें:- TikTok ने अपने प्लेटफॉर्म से डिलीट किए 60 लाख वीडियो

कुछ यूज़र्स ने कहा है कि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया है। पुलिस होने के बाद भी वो एक आम इंसान है। उन्हें भी आनंद उठाने का हक है। एक यूज़र ने लिखा कि पुलिस होने के मतलब यह तो नहीं है कि पुलिसकर्मी हमेशा गंभीरता में रहे। अल्पिता ने ऐसी कोई गलती नहीं की है जिसके लिए उन्हें सस्पेंड किया जाए।

टिकटॉक यूज़र ने कहा लेडी दबंग

वहीं एक अन्य यूज़र ने अल्पिता चौधरी को लेडी दंबग बताते हुए कहा कि गुजरात पुलिस को उनके ऊपर गर्व होना चाहिए। इसी तरह की कई प्रतिक्रियाएं बहुत सारे यूज़र्स ने सोशल मीडिया पर दी हैं। हालांकि काफी लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने अल्पिता के इस काम को गलत बताते हुए प्रशासन की कार्यवाई को सही बताया है।

अल्पिता ने खुद मानी गलती

गौरतलब है कि खुद अल्पिता ने TV9 गुजरात से बात करते हुए कहा कि उन्होंने जो किया वो गलत था। उन्हें पुलिस स्टेशन के अंदर वीडियो नहीं बनानी चाहिए थी। उन्होंने इसके लिए प्रशासन मांफी मांगते हुए कहा कि उन्होंने जो गलती कि है उसके लिए उन्हें सजा मिल गई है। टिकटॉक पर वीडियो बनाने के बारे में अल्पिता ने कहा कि वो उनकी निजी इच्छा है लेकिन प्रशासन के अनुशासन को उन्हें नहीं तोड़ना चाहिए था।

 

हम भी अल्पिता के बयान से सहमत है कि टिकटॉक या किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वीडियो बनाना या अपलोड करना बुरी बात नहीं है लेकिन उसके लिए किसी भी चीज की अनुसाशन को तोड़ना भी ठीक नहीं है। पुलिस प्रसाशन की अपनी एक गरीमा और मर्यादा है जिसे बनाए रखना भी जरूरी है।

दूसरी तरफ टिकटॉक पर शेयर की जाने वाली बहुत सारी ऐसी वीडियो हैं जो हमारे समाज के बच्चों और टीनऐजर बच्चों की मानसिकता को बिगाड़ रही है। इससे बचना भी जरूरी है और टिकटॉक को इसके लिए कुछ नियम-कायदे जरूर बनाना चाहिए।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
Any other news of TikTok comes from anywhere or anywhere. Now another news has come out. A woman policeman from Gujarat Police has been suspended for making a stamp video in the police station. The name of this woman policeman is the minority Choudhary.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X