Jio के रास्ते पर चलेगा Airtel, जानिए क्या होगा बदलाव

    हमारे देश की टेलिकॉम कंपनियों की बात की जाएं तो आजकल जियो और एयरटेल का नाम सबसे पहले दिमाग में आता है। हालांकि कुछ साल पहले तक एयरटेल कंपनी का ही नाम सबसे पहले और सबसे ज्यादा लिया जाता था। इसका कारण एयरटेल कंपनी की बड़ी रीच है। आपको बता दें कि देश की बड़ी टेलिकॉम कंपनी एयरटेल की रीच सब्सक्राइबर बेस के हिसाब से सबसे बड़ी मानी जाती है।

    Jio के रास्ते पर चलेगा Airtel, जानिए क्या होगा बदलाव

     

    एयरटेल की बड़ी ख़बर

    एयरटेल नेटवर्क ने 2G और 3G नेटवर्क से अपने सफर की शुरुआत करके 4G LTE तक अपनी नेटवर्क कनेक्टिविटी को फैलाया। इस दौरान कंपनी को काफी सफलताएं भी हासिल हुई लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि कंपनी अपने 2जी और 3जी नेटवर्क को आराम देकर अपना पूरा ध्यान 4जी एलटीई पर लगाना चाह रही है। एयरटेल कंपनी अपने पुराने 2जी और 3जी नेटवर्क को बंद कर सिर्फ LTE ब्रांड बनने की तैयारी में लगा हुआ है।

    यह भी पढ़ें:- Airtel ने दिवाली पर दिया तोहफा, लॉन्च किए पांच नए FRC Plans

    आपको बता दें कि रिलायंस जियो ने इस सिलसिले को पहले से ही शुरू कर दिया था। फिलहाल जियो ही एकमात्र टेलिकॉम कंपनी है जो एलटीई-ओनली सर्विस प्रोवाइड करती है। जियो में आपको 2जी और 3जी सर्विस नहीं मिलती है क्योंकि जियो कंपनी ने शुरू से ही इस कॉन्सेप्ट को अपनाया हुआ है। जियो कंपनी को काफी सफलता भी हासिल हुई। जिसकी वजह से ही शायद अब एयरटेल कंपनी भी इस फॉर्मूले को अपनाना चाहती है।

    सिर्फ 4जी नेटवर्क रहेगा एयरटेल

    एयरटेल कंपनी के लिए यह नया फैसला उनके लिए सटिक भी साबित हो सकता है। कंपनी ने इस बात को भी ध्यान में रखा होगा कि आजकल सस्ते स्मार्टफोन भी VoLTE सपोर्ट के साथ आते हैं। वहीं जियो कंपनी ने तो 4जी सपोर्टिंग फोन की अपनी सीरीज भी लॉन्च की है। ऐसा में देखना दिलचस्प होगा कि क्या एयरटेल भी अपना कोई 4जी सपोर्टिंग फोन लॉन्च करती है या नहीं।

     

    एयरटेल की सीईओ गोपाल मित्तल ने ET से बात करते हुए कहा कि 3जी सर्विस में कंपनी को जितना रेवन्यू जनरेट करना चाहिए, उतना कंपनी कर नहीं रही है। दूसरी तरफ 4जी की बढ़ती डिमांड को देखते हुए कंपनी 2G सर्विस में इस्तेमाल होने वाले 900MHz बैंड की बजाए LTE सर्विस में इस्तेमाल होने वाले 1800MHz का इस्तेमाल कर सकती हैं।

    English summary
    Airtel Network started its journey from 2G and 3G networks and expanded its network connectivity to 4G LTE. During this time, the company has achieved tremendous successes, but now it seems that the company is trying to put its focus on the 4G LTE by resting its 2G and 3G network.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more