एपल के कुछ नायाब डिज़ाइन जो आपने कभी नहीं देखे होंगे

Written By:

एपल की डिवाइसेस अपने ब्रांड के अलावा यूनीक डिज़ायन के लिए भी जानी जाती है। 80 के दशक में एपल कुछ ऐसा नया करना चाहता जो उसे दुनिया में एक अगल पहचान दे हालाकि उस समय माइक्रोसॉफ्ट उसके सामने एक तेजी से उभरती हुई कंपनी बन रहा था।

इसी समय स्‍टीव जॉब ने डिज़यनर हार्टमस्‍ट इसलिंगर के साथ एक करार किया जिसमें उन्‍हें अपने आने वाले प्रोडेक्‍ट के लिए कुछ ऐसे डिज़ाइनों की जरूरत थी जो किसी दूसरी कंपनी के पास न हों। इसके लिए स्‍नोव्‍हाइट नाम का एक प्रोजेक्‍ट शुरु किया गया जिसके अंदर एपल के उत्‍पादों की एक नई डिज़ाइन पेश की गई। आईए देखते हैं 80 के दशक में बनाई गई एपल उत्‍पादों के कुछ मॉडल

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन

80 के दशक में कुछ यूं हुआ करते थे एपल डिज़ाइन


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
Apple's focus on design has long been one of the key factors that set its computers apart. Some of its earliest and most iconic designs, however, didn't actually come from inside of Apple, but from outside designers at Frog.
Please Wait while comments are loading...
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting