सिक्योरिटी फिक्स के साथ रिलॉन्च हो रहा है बाबा रामदेव का Kimbho ऐप

    बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि एक बार फिर अपने मैसेजिंग ऐप Kimbho को लॉन्च करने के लिए तैयार है। कंपनी के मुताबिक, टेस्टिंग पूरी होने के बाद एक बार फिर ये ऐप आपको गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर पर नजर आएगा। पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने ब्लूमबर्ग को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि तब तक ऐप लॉन्च नहीं करते हैं, जब तक कि एक्सपर्ट हैकर्स और सिक्योरिटी एक्सपर्ट की एक टीम सभी सिक्योरिटी और प्राइवेसी की कमी का पता न लगा लें। उन्होंने बातचीत में ये भी कहा कि सिक्योरिटी फिक्स होते ही ऐप को दोबारा लॉन्च किया जाएगा।

    सिक्योरिटी फिक्स के साथ रिलॉन्च हो रहा है बाबा रामदेव का Kimbho ऐप

    किंभो पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने कहा, "हमने किम्भो ऐप के ट्रायल वर्जन को गूगल प्लेस्टोर और ऐपल ऐप स्टोर पर एक दिन के ट्रायल के लिए पेश किया था और पहले 3 घंटे में इस ऐप को करीब 1.5 लोगों ने इसे डाउनलोड किया। इस उत्साहजनक रिस्पॉन्स के लिए हम लोगों का शुक्रिया करते हैं।

    याद हो कि रामदेव की कंपनी पतंजलि का ये मैसेजिंग ऐप 'अब भारत बोलेगा' टैगलाइन के साथ पेश किया गया था। हालांकि सिक्योरिटी इश्यू और कुछ अन्य गड़बड़ियों के चलते कंपनी ने इस ऐप को लॉन्च होने के कुछ ही घंटों के अंदर प्लेस्टोर और ऐपल स्टोर से रिमूव कर दिया था।

    पतंजलि किम्भो ऐप लॉन्च हुआ और यूजर्स ने देखा कि इस ऐप में पाकिस्तानी एक्ट्रेस के पिक्चर्स हैं, यूजर्स ने इसे ट्विटर पर ट्रोल करना शुरू कर दिया। पाकिस्तानी एक्ट्रेस वाली किम्भो ऐप की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। लगातार ट्रोलिंग के बाद पतंजलि कंपनी ने इसे नोटिस किया और इस ऐप को रिमूव कर दिया गया।

    वहीं आधार के सिक्योरिटी फीचर्स पर सवाल खड़े करने वाले Elliot elderson हैकर ने अपने ट्वीट में बताया कि किम्भो ऐप के क्विक सिक्योरिटी चैक में ऐप में कई बड़ी कमियां पाई गई और ऐप की सिक्योरिटी एक मजाक की तरह है। वह सभी किम्भो यूजर्स के मैसेज पढ़ सकते हैं और ये ऐप यूजर्स के लिए बिल्कुल सुरक्षित नहीं है।

    Asus ZenFone AR : ये है स्मार्टफोन टेक्नोलॉजी का भविष्य

    पतंजलि का किम्भो मैसेजिंग ऐप का लोगो काफी हद तक वॉट्सएप की तरह ही था। इसके अलावा इसका यूजर इंटरफेस भी आपको पॉपुलर ऐप वॉट्सएप के समान ही लगेगा। इस ऐप में वॉट्सएप वाले सभी इमोजी भी दिए गए थे। उम्मीद की जा रही है कि कंपनी इस ऐप के रिलॉन्च से पहले सभी तरह की गड़बड़ी और सिक्योरिटी फीचर्स को सुधार कर किम्भो ऐप लॉन्च करेगी।

    English summary
    After removing its messaging app ‘Kimbho’ from Google Play and Apple’s App Store within a day of its launch the company is All Set to Relaunched it.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more