बिगबॉस्केट और ग्रोफर्स दिल्ली-एनसीआर में आवश्यक सामान देने में विफल

By Gizbot Bureau
|

राज्य सरकारों ने नोएडा में 22 कोरोना हॉटस्पॉट, गाजियाबाद में 13, गुरुग्राम में 9 और दिल्ली में 25 हॉटस्पॉट क्षेत्रों को सील किया है. वहीं पूरा एनसीआर क्षेत्र शुक्रवार को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को लेकर परेशान रहा. 21 दिन के लॉकडाउन के अंतिम चरण में अग्रणी ऑनलाइन डिलिवरी प्लेटफॉर्म बिगबास्केट, ग्रोफर्स और मिल्कबॉस्केट भी इस अवसर पर सप्लाई करने में नाकाम रहे।

बिगबॉस्केट और ग्रोफर्स दिल्ली-एनसीआर में आवश्यक सामान देने में विफल

 

नोएडा निवासी अरुण कुमार पिछले कुछ दिनों से लगातार बिगबॉस्केट से ऑनलाइन डिलिवरी लेने के लिए कोशिश कर रहे हैं. लेकिन उन्हें हर बार एक ही संदेश मिल रहा है, "दुर्भाग्य से हमारे पास अभी आपको सेवा देने के लिए कोई भी उपलब्ध स्लॉट नहीं है. कृपया बाद में फिर से कोशिश करें।

अभी नए अपडेट में बिगबास्केट ने कहा, "हम प्रत्येक दिन शहरों में स्लॉट की उपलब्धता को लेकर रिपोर्ट कर रहे हैं. हम यह सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं कि हम आपको अगले कुछ हफ्तों में सेवा दे सकें."

बिगबॉस्केट और ग्रोफर्स दिल्ली-एनसीआर में आवश्यक सामान देने में विफल

डिलिवरी प्लेटफॉर्म के इस नए अपडेट पर गुस्साए उपयोगकर्ताओं ने टिप्पणियों की झड़ी लगा दी. अरुण कुमार ने पोस्ट किया, "कुछ नया बताएं .. हर बार लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए एक ही अपडेट जबकि हकीकत में आपके पास कोई स्लॉट उपलब्ध नहीं है। एक अन्य उपयोगकर्ता ने बिगबास्केट को जवाब दिया : "व्हाट द हेल! हर दिन मैं इसकी जांच कर रहा हूं और ये स्लॉट भरे हुए दिखा रहा है। ग्रोफर्स की कहानी भी अलग नहीं थी।

 

शक्तिधर प्रसाद ने ग्रोफर्स को ट्वीट किया, "मेरा रिफंड कहां है आप लोगों ने ऊंची कीमत में नया ऑर्डर लेने के लिए मेरा ऑर्डर रद्द कर दिया है. कम से कम रिफंड का पैसा जमा करवाएं, ताकि हम ऑफलाइन मार्केट से सामान ले सकें।

Facebook लेकर आ रहा है Quiet Mode फीचर, जानिए कैसे करेगा काम

अजय कुमार ने ट्वीट किया, "मैं पिछले 16 दिनों से ग्रोफर्स का ऑर्डर देने की कोशिश कर रहा हूं, लेकिन यह मेरे ऑर्डर को स्वीकार नहीं कर रहा है. मुझे यहां से केवल आश्वासन मिल रहा है। मेल भी किए, लेकिन कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिली."एक बिगबॉस्केट उपयोगकर्ता ने कहा, हमें डिलिवरी मिली, लेकिन हमने जो ऑर्डर दिया था, वह नहीं मिला. जबकि नोएडा सेक्टर 143 हॉटस्पॉट नहीं है। राज्य सरकारों ने लोगों को यह सुनिश्चित करने का दावा किया था कि किराने का सामान, सब्जियां, दूध, दवाइयां जैसी आवश्यक चीजें लोगों के दरवाजे पर उपलब्ध कराई जाएंगी

बिगबॉस्केट और ग्रोफर्स दिल्ली-एनसीआर में आवश्यक सामान देने में विफल

नोएडा और आसपास के इलाकों में किराने का सामान खरीदने और स्टॉक करने को लेकर लोगों में घबराहट फैल गई है। किराने की दुकानों के बाहर लंबी कतारें देखी गईं. नोएडा के अधिकारियों ने जिन टेलीफोन नंबरों को मुहैया कराया था, वे या तो स्विच ऑफ थे या काम नहीं कर रहे थे। यहां तक कि हॉटस्पॉट जोन से बाहर वाले लोग भी परेशान थे।

जियो फेंसिंग क्‍या है और कैसे क्वारंटाइन से भागने वालों को पकड़ रही है सरकार ?

अधिकांश ऑनलाइन डिलिवरी वाली वेबसाइट पर यही संदेश देखने को मिला, "आपको हुई समस्या के लिए क्षमा याचना, अभूतपूर्व ऑर्डर बुकिंग के कारण आपको स्लॉट नहीं मिल पाएगा। हम क्षमता बढ़ाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. हम हर दिन अपने ऐप और वेबसाइट पर स्लॉट उपलब्धता की स्थिति को अपडेट करेंगे. आप अपडेट के लिए हर दिन उनकी जांच करते रहें।"

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

Read more about:
English summary
The state governments had claimed to ensure people that essentials like groceries, vegetables, milk, medicines, and others will be brought to the doorsteps of the people in hotspots.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X