भूकंप के बाद बीएसएनएल हाईअलर्ट पर

Written By:

    भूकंप के बाद बीएसएनएल हाई अलर्ट पर है। मोबाइल टॉवरों के साथ ही बेसिक फोन व इंटरनेट सेवा के सभी पैरामीटर चेक किए जा रहे हैं। नेपाल से लगे हुए जनपदों के सभी बीटीएस हर समय चालू रखने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं।

    कमाल है 11,990 रुपए में स्‍मार्टफोन के साथ सेल्‍फी स्‍टिक फ्री

    भूकंप के बाद बीएसएनएल हाईअलर्ट पर

    उच्च प्रबंधन की ओर से सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सलाह दी गई है कि भूकंप की आपदा जब तक समाप्त न हो जाए तब तक वह अवकाश पर न जाएं। हाईअलर्ट का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बीएसएनएल के सीएमडी अनुपम श्रीवास्तव स्वयं सर्किल के मुख्य महाप्रबंधक एच.आर. शुक्ल से प्रत्येक दो घंटे में बात करके नेटवर्क की जानकारी ले रहे हैं।

    पढ़ें: भारतीय जनता के लिए माइक्रोसॉफ्ट लाया सबसे सस्‍ता इंटरनेट फोन

    शनिवार और रविवार को आए भूकंप के बाद बीएसएनएल सहित सभी संचार कम्पनियों की पोल खुल गई थी। भूकंप आने के तत्काल बाद जब लोगों ने अपने परिजनों का हाल लेने के लिए उनका मोबाइल मिलाया तो मोबाइल ने हाथ ही नहीं रखने दिया।

    पढ़ें: सलमान भाई के ट्विटर एकाउंट की कुछ खास बातें

    मोबाइल पर नंबर मिलाते-मिलाते बैट्री कम हो गई, लेकिन नंबर नहीं मिला। अधिकतर उपभोक्ता दो घंटे तक के लिए नेटवर्क से दूर हो गए। भूकंप जैसी आपदा के बाद परिजनों की कुशल क्षेम न मिलने से लोग परेशान हो गए थे। दो घंटे के बाद नेटवर्क कुछ सामान्य हुआ तभी उपभोक्ताओं को अपने परिजनों की कुशलता की खबर मिल सकी थी।

    भूकंप के बाद बीएसएनएल हाईअलर्ट पर

    मोबाइल सेवा के अधिकारियों ने इसका कारण यह बताया था कि सभी लोग एक दूसरे का हाल जानने के लिए फोन करने का एक साथ प्रयास कर रहे थे। मोबाइल कम्पनियों के अधिकारियों का कहना था कि 12 बजे से दो बजे तक मोबाइल नेटवर्क पर सामान्य से चार गुना अधिक दबाव था। क्षमता से कई गुना अधिक प्रयोग होना ही नेटवर्क ध्वस्त होने का कारण बना।

    आपातकाल में नेटवर्क ध्वस्त होने के बाद से बीएसएनएल प्रशासन अलर्ट हो गया है। सीजीएम ने सभी अधिकारियों व मोबाइल सेवा के एक्सपर्ट कर्मचारियों को बीटीएस के रखरखाव में लगा दिया है।

    English summary
    As a massive earthquake rocked Nepal, telecom major Airtel on Saturday announced free calls to Nepal on its network over the next 48 hours, while state-run BSNL and MTNL decided to charge local rates for calls made to the Himalayan nation for the next three days.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more