देश विरोधी कंटेंट पर केंद्र सरकार की डिजिटल स्ट्राइक, ब्लॉक किए गए पाकिस्तान समेत 8 YouTube चैनल

|

केंद्र सरकार ने देश के खिलाफ फेक न्यूज फैलाने के आरोप में 7 भारतीय यूट्यूब चैनल, 1 पाकिस्तानी यूट्यूब चैनल, एक फेसबुक अकाउंट और दो फेसबुक पोस्ट को ब्लॉक कर दिया गया है । सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अवरुद्ध चैनलों के 114 करोड़ से अधिक दर्शक और 85 लाख ग्राहक है।

 

ये नहीं है सपना! मात्र 500 रूपये से भी कम में इन गैजेट्स को बनाएं अपनाये नहीं है सपना! मात्र 500 रूपये से भी कम में इन गैजेट्स को बनाएं अपना

देश विरोधी कंटेंट पर केंद्र सरकार की डिजिटल स्ट्राइक

Janmashtami 2022 : WhatsApp पर इस अंदाज में दें अपनों को जन्माष्टमी की बधाई; ये तरीका आप के लिएJanmashtami 2022 : WhatsApp पर इस अंदाज में दें अपनों को जन्माष्टमी की बधाई; ये तरीका आप के लिए

जाने क्या है वजह

केंद्र सरकार ने कहा है कि इन चैनलों के कंटेंट का उद्देश्य देश में धार्मिक समूहों के बीच नफरत फैलाना है। केंद्र ने एक बयान में कहा कि प्रतिबंधित चैनलों पर कई वीडियो झूठे प्रचार फैला रहे है जैसे कि सरकार धार्मिक संरचनाओं को विवादित करने का आदेश दे रही है, सरकार धार्मिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा रही है और भारत में धार्मिक युद्ध की घोषणा कर रही है।

ये Apps चुरा रही है आपके पैसे और पासवर्ड, तुरंत करें Uninstallये Apps चुरा रही है आपके पैसे और पासवर्ड, तुरंत करें Uninstall

इन YouTube चैनलों पर लगी लगाम

जिन YouTube चैनलों को ब्लॉक किया गया उनमें लोकतंत्र टीवी (12.90 लाख ग्राहक), U&V TV टीवी (10.20 लाख ग्राहक), AM Razvi (95, 900 ग्राहक), गौरवशाली पवन मिथिलांचल (7 लाख ग्राहक), सरकार अपडेट (80,900 ग्राहक) , देखो (19.40 लाख ग्राहक) - सभी भारत से बाहर है, जबकि पाकिस्तान स्थित चैनल न्यूज की दुनिया था, जिसके 97,000 ग्राहक थे।

Android यूजर्स हो जाएँ सावधान! इन 8 घातक ऐप्स को अभी करें डिलीट, नहीं तो बाद में पछताएंगेAndroid यूजर्स हो जाएँ सावधान! इन 8 घातक ऐप्स को अभी करें डिलीट, नहीं तो बाद में पछताएंगे

देश विरोधी कंटेंट पर केंद्र सरकार की डिजिटल स्ट्राइक

बयान में कहा गया है कि YouTube चैनल भारतीय सशस्त्र बलों, जम्मू और कश्मीर जैसे विभिन्न विषयों पर फर्जी खबरें पोस्ट करते थे, यह कहते हुए कि कंटेंट को राष्ट्रीय सुरक्षा और भारत के मैत्रीपूर्ण संबंधों के दृष्टिकोण से पूरी तरह से गलत और संवेदनशील माना गया था।

फेमस होना है तो इंस्‍टॉल कीजिए ये 5 बेस्‍ट Short Video Appsफेमस होना है तो इंस्‍टॉल कीजिए ये 5 बेस्‍ट Short Video Apps

पहले हुए 94 यूट्यूब चैनल ब्लॉक

इससे पहले पिछले महीने ही सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि सरकार ने वर्ष 2021-22 के दौरान फेक न्यूज फैलाने के आरोप में 94 यूट्यूब चैनलों पर प्रतिबंध लगाया है। इसके साथ ही 19 सोशल मीडिया अकाउंट और 747 URL को भी प्रतिबंधित किया है। राज्यसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए ठाकुर ने कहा कि ये कार्रवाई सूचना तकनीक एक्ट 2000 की धारा 69Aके तहत की गई है।

इन Apps करें अपने बच्चों की मोबाइल एक्टिविटीज को ट्रैकइन Apps करें अपने बच्चों की मोबाइल एक्टिविटीज को ट्रैक

 
Best Mobiles in India

English summary
The Central Government has blocked 7 Indian YouTube channels, 1 Pakistani YouTube channel, one Facebook account and two Facebook posts for spreading fake news against the country. .

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X