भारतीय मूल के गुरदीप स्काइप के उपाध्यक्ष बने

Written By:

चण्डीगढ़ में जन्मे सॉफ्टवेयर इंजीनियर गुरदीप सिंह पाल को माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन ने स्काइप का कॉरपोरेट उपाध्यक्ष नियुक्त किया है। स्काइप एक लोकप्रिय मुफ्त अंतर्राष्ट्रीय कॉल और मैसेजिंग सेवा है, जिसे माइक्रोसॉफ्ट ने बनाया है। 

46 वर्षीय पाल ने चण्डीगढ़ के सैंट जॉन्स स्कूल से शिक्षा ग्रहण की है। इसके बाद उन्होंने बिड़ला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस (बीआईटीएस) पिलानी से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। अभी वह माइक्रोसॉफ्ट में कॉरपोरेट उपाध्यक्ष हैं।

वह माइक्रोसॉफ्ट के नए एप्लीकेशन एवं सेवा खंड में सूचना प्लेटफॉर्म तथा एक अनुभवी टीम की अगुआई करते हैं। माइक्रोसॉफ्ट की वेबसाइट के मुताबिक पाल के पास नेटवर्किंग, वीओआईपी और कोलेबोरेशन क्षेत्र में 20 से अधिक पेटेंट (प्रक्रिया में या मंजूर) हैं। पाल ने ओरेगन विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस में परास्नातक की डिग्री भी ली है।

भारतीय मूल के गुरदीप स्काइप के उपाध्यक्ष बने

वह घाना के अशीसी विश्वविद्यालय के बोर्ड ऑफ ट्रस्टी भी हैं। पाल माइक्रोसॉफ्ट के शीर्ष प्रबंधन में पहुंचने वाले पहले सिख हैं। उन्होंने जनवरी 1990 में कंपनी में सॉफ्टवेयर डिजाइन इंजीनियर के रूप में नौकरी शुरू की थी। 'इनफॉर्मेशन वीक' ने 2008 में पाल को ऐसे 15 इन्नोवेटरों में शामिल किया था, जो कुछ नया कर सकते हैं।

वह हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू द्वारा प्रकाशित शोधपत्र 'इंस्टीट्यूशनल मेमोरी गोज डिजिटल' के सह लेखक भी रहे हैं, जिसे दावोस में विश्व आर्थिक मंच 2009 में प्रस्तुत किया गया था। माइक्रोसॉफ्ट में उन्होंने प्रमुख कंपनियों के साथ कई अधिग्रहणों एवं प्रौद्योगिकी साझेदारियों का नेतृत्व किया है।

Please Wait while comments are loading...
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
हिमाचल में बीजेपी के लिए सबसे बुरी खबर लाया ये  Exit Poll
हिमाचल में बीजेपी के लिए सबसे बुरी खबर लाया ये Exit Poll
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot