अब चेन्नई में जीपीएस से लैस होंगे ऑटो-रिक्शे

Posted By:

चेन्नई में अब ऑटो-रिक्शे ग्लोबल पोजीशनिंग प्रणाली (जीपीएस) तथा इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल प्रिंटर युक्त मीटर से लैस होंगे। यह जानकारी रविवार को तमिलनाड़ु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने दी। यहां ऑटो किराए में बदलाव संबंधी जारी एक बयान में जयललिता ने कहा, देश में सर्वप्रथम चेन्नई में सरकार द्वारा ऑटो रिक्शा में मुफ्त जीपीएस और इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल प्रिंटर लगवाए जाएंगे। इस पर 80 करोड़ रुपये खर्च आएगा।

पढ़ें: क्‍या आपने नेक्‍सस 7 में किया 4.3 जैलीबीन का नया अपडेट

उन्होंने बताया कि ऑटो सवारियों को सफर की दूरी, कुल किराया और किराया दर अंकित एक रसीद दिया जाएगा। उन्होंने कहा, "ऑटो रिक्शा के संचालन की प्रभावी ढंग से निगरानी भी की जाएगी। मुख्यमंत्री ने आगे साफ किया कि ऑटो में एक 'पैनिक बटन' भी होगा, जिससे किसी खतरे की आशंका होने पर सवारी उसको दबा सके। इस उपकरण के माध्यम से ऑटो की नियंत्रण केंद्र द्वारा निगरानी होगी।

पढ़ें: सैमसंग की नई स्‍मार्टवॉच गैलेक्‍सी गियर, जानें क्‍या होगा इसमें खास?

अब चेन्नई में जीपीएस से लैस होंगे ऑटो-रिक्शे

मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार ने शुरुआती 1.8 किलोमीटर पर न्यूनतम 25 रुपये और हर अतिरिक्त किलोमीटर पर 12 रुपये नई किराया दर तय की है। रात्रि सफर (10 बजे रात से 5 बजे सुबह) के लिए पचास प्रतिशत अधिक किराया चुकाना होगा।इंतजार शुल्क 3.50 रुपये (प्रत्येक पांच मिनट) और प्रति घंटे 42 रुपये होगा।

पढ़ें: सैमसंग की नई स्‍मार्टवॉच गैलेक्‍सी गियर, जानें क्‍या होगा इसमें खास?

संशोधित किराया दरें रविवार से प्रभावी होंगी और ऑटो रिक्शा चालक किराया कार्ड अपने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी कार्यालय से ले सकते हैं। वर्ष 2007 में जब आखिरी बार किराया दर संशोधित की गई थीं, तब न्यूनतम मीटर दर 14 रुपये थी।

Please Wait while comments are loading...
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
Opinion Poll

Social Counting