रुपए लौटा रही है फ्रीडम 251 बनाने वाली कंपनी!

Written By:

    फ्रीडम 251 जब से शुरू से चर्चाओं में है। पहले अपनी सस्ती कीमत के कारण वाह-वाही बटोरी तो अब उसी के लिए नकारात्मकता का भी शिकार हुआ। इसी नकारात्मकता को देखते हुए फ्रीडम 251 बनाने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्स ने अब ग्राहकों के रुपए वापस देना शुरू कर दिया है। तो क्या इसका मतलब यह हुआ कि दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन फ्रीडम 251 अब कभी नहीं आएगा!

    रुपए लौटा रही है फ्रीडम 251 बनाने वाली कंपनी!

    घबराने वाली बात नहीं है। दरअसल कंपनी ने फ्रीडम 251 को आर्डर करने वाले लोगों के रुपए लौटना इसलिए शुरू किया है क्योंकि कंपनी स्मार्टफोन को डिलीवर करने के बाद ही रुपए लेगी। जिसका मतलब है कैश ऑन डिलीवरी। कंपनी के ऐसा करने के पीछे एक ही कारण, कंपनी के बारे में नकारात्मक सोच रखने वालों को गलत साबित करना।

    रुपए लौटा रही है फ्रीडम 251 बनाने वाली कंपनी!

    पिछले कुछ समय से देखा गया है कि कंपनी रिंगिंग बेल्स के बारे में कई बाते हो रही हैं। किसी का कहना है कि फ्रीडम 251 कभी आएगा ही नहीं। तो कोई कह रहा है कि कंपनी लोगों को ठग रही है। रिंगिंग बेल्स के निदेशक मोहित गोयल ने बताया, 'हमें लेकर आसपास बहुत ज्यादा नकारात्मकता थी, इसलिए हमने फोन देने के बाद ही अपने ग्राहकों से पैसे लेने का फैसला किया है। जिन्होंने फोन बुक करने के लिए पैसे दिए हैं, हम उन्हें वापस लौटा रहे हैं और हम 'कैश ऑन डिलिवरी' का विकल्प दे रहे हैं।'

    English summary
    Ringing bells is returning customer's payment who has ordered freedom 251. They will now do Cash on delivery. This the reason behind this step.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more