क्या आपने आज गूगल के डूडल पर गौर किया...?

    गूगल हमेशा खास दिन या खास लोगों के लिए अपने डूडल को समर्पित करती है। आज भी गूगल ने अपने डूडल को काफी खास समय बनाया है। बता दें, आज के ही दिन लगभग 44 साल पहले धरती से बाहर तारों को पहला रेडियो मैसेज भेजा गया था। जो काफी खास अवसर है। इसी खास दिन के चलते गूगल के डूडल को उसी ढंग से तैयार किया है।

    क्या आपने आज गूगल के डूडल पर गौर किया...?

     

    धरती से बाहर तारों को भेजे गए इस रेडियो मैसेज को Arecibo message का नाम दिया गया था। वैज्ञानिकों के एक ग्रुप ने Puerto Rico के जंगलों में स्थित Arecibo ऑब्जर्वेटरी से पहली बार धरती से बाहर रेडियो मैसेज भेजा गया था। जो काफी अदभूत है। बता दें, यह मेसेज 3 मिनट का था। वहीं रेडियो मैसेज में 1,679 बाइनरी डिजिट्स को शामिल किया गया था। नंबरों की इस सीरीज का लक्ष्य सितारों का वह समूह था, जोकि पृथ्वी से M-13, 25,000 दूरी पर स्थित था।

    जानें इसका महत्व

    यह ब्रॉडकास्ट काफी शक्तिशाली था, क्योंकि इसने अपने 305 मीटर के एंटीना से जुड़े अरसीबो के मेगावाट ट्रांसमीटर का उपयोग किया था। इस ऐतिहासिक ट्रांसमिशन का मुख्य उद्देश्य अरसीबो द्वारा हाल ही में अपग्रेड किए गए रेडियो टेलिस्कोप की क्षमताओं को प्रदर्शित करना था।

    यह भी पढ़ें:- "बाल दिवस" पर गूगल ने बनाया खास डूडल

    बता दें, यह मैसेज Cornell विश्वविद्यालय के रिसर्चर की एक टीम ने भेजा था। जिसमें लोकप्रिय astronomer, cosmologist और astrophysicist Carl Sagan शामिल थे। टीम का नेतृत्व डॉ फ्रैंक ड्रेक ने किया था। इसी के चलते आज के दिन को याद करते हुए गूगल ने डूडल पर इसकी यादें ताजा की हैं।

    English summary
    Google always dedicates to our doodle for a special day or special people. Even today Google has made its doodle a very special time. Let me tell you, on the day of today about 44 years ago, the first radio message was sent to the stars outside the Earth. Which is a very special occasion. Due to this special day Google has designed Google Doodle in the same fashion.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more