iPhone के इन मॉडल में जल्‍द मिलेगा इमरजेंसी SOS अपडेट, जाने कैसे करता है ये काम

|
iPhone के इन मॉडल में जल्‍द मिलेगा इमरजेंसी SOS अपडेट

Apple ने इस साल सितंबर में iPhone 14 सीरीज को लॉन्च किया था, इस दौरान 'सैटेलाइट के जरिए इसमें इमरजेंसी SOS' फैसिलिटी की अनाउंसमेंट की गई थी, जो iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max पर होगी और यूजर्स को एक टेक्स्ट मैसेज भेजने का परमिशम देगा। इमरजेंसी सर्विस के लिए जब वे सेलुलर वाई-फाई कवरेज से बाहर होंगे वह तभी काम करेंगा। यह फैसिलिटी सैटेलाइट कम्युनिकेशन का यूज करती है, जो पहले केवल सैट-कॉम फोन पर मैजूद थी, ताकि यूजर्स नेटवर्क कवरेज से बाहर होने पर भी मैसेज भेज सकें। उस समय, कंपनी ने बताया कि यह फीचर सपोर्ट iPhone मॉडल, यानी iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max पर इस साल के लास्ट में उपलब्ध होगी। अब कंपनी ने इस फीचर को पेश करने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है।

 

Apple ने कहा कि उसने अपने एडवांस्ड मैन्युफैक्चरिंग फंड से 450 मिलियन डॉलर का निवेश किया है जो सैटेलाइट के जरिए iPhone 14 Pro मॉडल पर उसके इमरजेंसी SOS को सपोर्ट करेगा।

इसके अलावा, कंपनी ने कहा कि इस फंडिंग का मोस्ट पार्ट ग्लोबलस्टार को जाएगा, जो अमेरिका में एकग्लोबल सैटेलाइट सर्विस है, जिसका हेडक्वार्टर कोविंगटन, लुइसियाना में है। इन्वेस्टमेंट से कंपनी को अपने सैटेलाइट नेटवर्क और ग्राउंड स्टेशनों में सिग्निफिकेंट ग्रोथ प्रोवाइड करने में मदद मिलेगी, यह फाइनल करने के लिए कि iPhone 14 यूजर्स ग्रिड से बाहर होने पर इमरजेंसी सर्विसेज से जुड़ने में एलिजिबल हैं। ग्लोबलस्टार में 300 से अधिक कर्मचारी एप्पल के नए फीचर को सपोर्ट करने की दिशा में काम करेंगे।

 

कैसे काम करेगा एप्पल का 'इमरजेंसी एसओएस वाया सैटेलाइट' फीचर

Apple ने एक ऑफिशियल ब्लॉग पोस्ट में बताया कि जब कोई iPhone यूजर्स सैटेलाइट रिक्वेस्ट के जरिए से एक इमरजेंसी SOS करेगा, तो मैसेज ग्लोबलस्टार के 24 सैटेलाइट में से एक पर मिल जाएगा, जो लो अर्थ ऑर्बिट (LEO) में लगभग 16,000 मील प्रति घंटे की गति से यात्रा कर रहा है। इसके बाद सैटेलाइट दुनिया भर के प्रमुख बिंदुओं पर स्थित कस्टम ग्राउंड स्टेशनों को एक मैसेज भेजेगा।

iPhone के इन मॉडल में जल्‍द मिलेगा इमरजेंसी SOS अपडेट

सैटेलाइट फीचर के जरिए आईफोन 14 प्रो के इमरजेंसी एसओएस का इस्तेमाल कैसे करें

1 - सबसे पहले, इमरजेंसी सर्विस को कॉल करने की कोशिश करें। इस दौरान चाहें आपका सेलुलर कैरियर नेटवर्क मौजूद हो या ना, आप कॉल कर सकते हैं।

2 - अगर आपका कॉल कनेक्ट नहीं होता है, तो आप सैटेलाइट के जरिए से इमरजेंसी सर्विस को टेक्स्ट कर सकते हैं। सैटेलाइट के जरिए से इमरजेंसी टेक्स्ट पर टैप करें। आप मैसेज टू टेक्स्ट 911 या एसओएस पर भी जा सकते हैं, फिर इमरजेंसी सर्विसेज पर टैप करें।

3 - रिपोर्ट इमरजेंसी पर टैप करें।

Apple का कहना है कि एक बार जब आप कनेक्ट हो जाते हैं, तो आपका iPhone आपकी मेडिकल आईडी और इमरजेंसी कॉन्टैक्ट, योर लोकेशन , और आपके iPhone के के बैटरी लाइफ जैसी इम्पोर्टेन्ट जानकारी शेयर करके इमरजेंसी रेस्पोंडेंट के साथ एक टेक्स्ट कन्वर्सेशन शुरू करेगा। .

कंपनी ने चेतावनी दी है कि सैटेलाइट कनेक्शन का उपयोग करते समय, यूजर्स को मैसेज भेजने में लगभग 15 सेकंड का समय लग सकता है।

 
Best Mobiles in India

English summary
Apple launched the iPhone 14 series in September this year, during which the 'Emergency SOS Via Satellite' feature was announced on the iPhone 14 Pro and iPhone 14 Pro Max and allows users to send text messages. Would recommend this will only work for emergency service when they are out of cellular Wi-Fi coverage. This facility uses satellite communication.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X