गूगल के बारे में जाने कुछ अनसुने तथ्‍य

Posted By:

गूगल इंटरनेट की दुनिया में सबसे बड़ी सर्च इंजन कंपनी है। कुछ भी सर्च करना हो बस गूगल में सर्च कर लीजिए। गूगल ने कल अपना 15 वां जन्‍मदिन मनाया है। इतने लंबे सफर के दौरान गूगल में कई फेरबदल हुए। लेकिन गूगल हमेशा आगे बढ़ता गया और आज पूरी दुनिया में गूगल को सर्च इंजन का राजा कहा जाता है,

इसके अलावा गूगल के कई दूसरे प्रोडेक्‍ट भी हैं। जैसे गगल अर्थ, गूगल हैंडआउट, गूगल प्‍लस, गूगल एडवर्ड, गूगल एडसेंस। गूगल को शुरु करने का श्रेय सर्गे ब्रिन और लैरी पेज को जाता है जिन्‍होंपे 1996 में स्‍टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पीएचडी करने के दौरान इसे शुरु किया। दरअसल गूगल की शुरुआत एक प्रोजेक्‍ट के रूप में हुई जब सर्गे ब्रिन और लैरी पेज ने स्टेनफोर्ड डि‌जिटल लाइब्रेरी प्रोजेक्‍ट पर काम करना शुरु किया था। ऐसे ही कुछ और मजेदार तथ्‍य हैं जो गूगल के बारे में शायद आप सबको नहीं पता हों।

गूगल के बारे में जाने कुछ अनसुने तथ्‍य

गूगल का सबसे पहला ओरीजनल नाम बैकरब था, बैकरब एक वेब क्रॉलर था इंटरनेट दूसरी साइटों को क्रॉल करता था।

2010 में गूगल ने हर हफ्ते एक कंपनी का अधिग्रहण किया था।

गूगल में सबसे पहला गूगल डूडल एक जलते हुए इंसान का सिंबल था। ये सिंबल जब ऐड किया गया था जब सर्गे ब्रिन और लैरी पेज 1998 में बर्निगमैन फेस्‍टिवल में शिरकत करने गए थे। ये डूडल लोगों को इस बात की जानकारी देने के लिए लगाया गया था कि लैरी और सर्गे बर्निंग मैन फेस्‍टिवल में गए थे।

गूगल में सबसे पहले शेफ के तौर पर 1999 को चार्ली आयर को हायर किया था उस समय गूगल में सिर्फ 40 कर्मचारी काम करते थे।

गूगल की जीमेल को 50 से अधिक भाषाओं का प्रयोग किया जा सकता है।

2004 में जब कंपनी को सार्वजनिक किया गया था तो गूगल में काम करने वाले करीब 1000 कर्मचारी करोड़पति थे।

गूगल द्वारा सबसे पहले किया गया आधिकारिक ट्विट था "I'm feeling lucky"

Please Wait while comments are loading...
काम की खबर: इस कोड से कराएं Jio रिचार्ज, 76 रुपए हो जाएंगे वापस
काम की खबर: इस कोड से कराएं Jio रिचार्ज, 76 रुपए हो जाएंगे वापस
TRICK: ऐसे चुपके से जानें किसी की भी कॉल डीटेल्स और मैसेज
TRICK: ऐसे चुपके से जानें किसी की भी कॉल डीटेल्स और मैसेज
Opinion Poll

Social Counting