अपने मोबाइल पर करें पूरे दिल्‍ली की सैर

Written By:

अपने बेटे को मोबाइल में ऐप्स डाउनलोड करता देख भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) विभाग के एक अधिकारी के दिमाग में यह बात आई कि क्यों न दिल्ली के अतिलोकप्रिय और कम लोकप्रिय दोनों तरह के पर्यटन स्थलों की जानकारी से संबंधित ऐप्स विकसित किया जाए, ताकि पर्यटक मोबाइल के माध्यम से इसका इस्तेमाल एक गाइड के तौर पर कर सकें।

'एएसआई दिल्ली सर्किल' के नाम से 3.92 मेगाबाइट का यह ऐप्स अप्रैल से ही उपलब्ध है, लेकिन एएसआई द्वारा प्रचार नहीं होने की वजह से अभी लोकप्रिय नहीं हुआ है। दिल्ली सर्किल के अधीक्षण पुरातत्वविद वसंत कुमार स्वर्णकार ने कहा, "वे दिन गए, जब पर्यटन स्थलों की जानकारी के लिए लोगों को भारी-भरकम लैपटॉप या कोई पर्यटन गाइडबुक साथ लेकर चलना पड़ता था।

अपने मोबाइल पर करें पूरे दिल्‍ली की सैर

अगर हमारा स्मार्टफोन ऐसी जानकारियां उपलब्ध कराने में सक्षम है, तो मैंने सोचा कि एएसआई को भी इस तरह की सुविधा शुरू करनी चाहिए। वह कहते हैं, "यह ऐप पर्यटकों के लिए विकसित किया गया है, जिसे हम एक सेल्फ गाइड भी कह सकते है। स्वर्णकार कहते हैं, "इस ऐप के विकास का उद्देश्य पर्यटकों को वैसे स्मारकों की भी जानकारी देना था, जो ज्यादा लोकप्रिय नहीं है, लेकिन इतिहास की निशानी हैं। स्मार्टफोन पर यह ऐप मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है।

इसमें कुल चार भाग हैं। गैलरी, योजना, आपका यात्रा कार्यक्रम और एएसआई के बारे में जानकारी। स्वर्णकार कहते हैं कि स्मारक अनुभाग में दो उपखंड है, प्रसिद्ध तथा सभी। वह कहते हैं, "दिल्ली में एएसआई द्वारा सूचीबद्ध कुल 158 स्मारक हैं, जिसे सभी उपखंड के अंतर्गत रखा गया है, जबकि कुतुब मीनार प्रसिद्ध उपखंड में है। पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए इन सब के अलावा ऐप से कई और जानकारियां भी मिलती हैं, जैसे टिकट का मूल्य, स्मारक घूमने का समय और प्रसिद्ध स्मारकों की रात में खींची गई तस्वीरों की फोटो गैलरी।

Please Wait while comments are loading...
आधार धारकों को मोदी सरकार देगी एक लाख कैश, जानें वायरल मैसेज की सच्चाई
आधार धारकों को मोदी सरकार देगी एक लाख कैश, जानें वायरल मैसेज की सच्चाई
मुजफ्फरनगर रेल हादसा: 10 के मारे जाने की खबर, नोट करें हेल्‍पलाइन नंबर
मुजफ्फरनगर रेल हादसा: 10 के मारे जाने की खबर, नोट करें हेल्‍पलाइन नंबर
Opinion Poll

Social Counting