BSNL कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, होली से पहले मिलेगी रूकी हुई सैलरी

    |

    बीएसएल कंपनी अपने यूजर्स के लिए तरह तरह के प्लान को पेश कर रही है। जिससे यूजर्स के साथ-साथ कंपनी को भी फायदा पहुंच सके। हालांकि काफी समय से बीएसएनएल कंपनी आर्थिक तंगी से गुजर रही है। जिसके चलते कंपनी के कर्मचारियोंं को उनकी सैलरी मुहैया कराने में कंपनी असमर्थ थी।

    BSNL कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, होली से पहले मिलेगी रूकी हुई सैलरी

     

    हालांकि त्यौहार के साथ कंपनी अपने यूजर्स को खुशखबरी देने वाली है। कंपनी के CMD अनुपम श्रीवास्तव के अनुसार कल यानि शुक्रवार को सभी कर्मचारियों की रूकी हुई सैलेरी देने की बात कही गई है। बता दें, अभी तक कंपनी द्वारा 1 लाख 60 हजार कर्मचारियों की सैलरियों को रोका गया था।

    सरकार को जाता है श्रेय

    रूकी हुई सैलरी के बारें में बात करते हुए कंपनी के सीएमडी ने सरकार को इसका श्रेय देते हुए कहा कि सरकार ने इस मसले पर तेजी से एक्शन लिया है। उन्होंने कहा कि डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम ने भी कंपनी की बकाया राशि जारी करने का फैसला किया है, जिससे कंपनी की ट्रांजैक्शन बुक में बदलाव देखने को मिलेगा।

    यह भी पढ़ें:- BSNL के 98 रुपए वाले प्रीपेड प्लान में हुआ बदलाव, अब ज्यादा मिलेगा इंटरनेट डाटा

    इसी के साथ उन्होंंने बताया कि कंपनी के कैश फ्लो में दिक्कत आ रही थी। जिसे अब सुधार लिया गया है। इसी मामले के चलते टेलीकॉम मिनिस्टर मनोज सिन्हा ने फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली से मुलाकात की थी। मनोज सिन्हा ने अरुण जेटली से फंड की मांग की थी जिससे कर्मचारियों की सैलरी दी जा सके। टेलीकॉम स्पेस में बीएसएनएल और एमटीएनएल अकेली सरकारी कंपनी है।

    English summary
    BSNL company is offering a variety of plans for its users. This will benefit the company as well as the users. However, for a long time, the BSNL company is going through financial constraints. The company was unable to provide their salaries to the employees of the company. However now the company has said that the salary will be available soon.

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more