Jio यूजर्स के लिए खुशखबरी, 5G सर्विस जल्द होगी लॉन्च

    देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के मालिकाना हक वाली कंपनी रिलायंस जियो टेलिकॉम इंडस्ट्री में एक बार फिर से क्रांति लाने को तैयार है। रिलायंस जियो अपने उपभोक्ताओं के लिए सबसे तेज़ स्पीड इंटरनेट सुविधा देने की तैयारी कर रही है।

    Jio यूजर्स के लिए खुशखबरी, 5G सर्विस जल्द होगी लॉन्च

     

    ऐसे में अगर सब ठीक रहा तो कंपनी जल्द ही अपने ग्राहकों को 5 जी इंटरनेट सुविधा मुहैया कराएगी। अब बस इंतज़ार है तो स्पेक्ट्रम एलोकेशन का। कंपनी का दावा है कि जैसे ही कंपनी को स्पेक्ट्रम एलोकेट हो जाएगा, उसके 6 महीने के अंदर ही कंपनी 5वीं जेनरेशन टेक्नोलॉजी लॉन्च कर देगी।

    2020 तक मिलेगी 5जी सर्विस

    बता दें कि मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस जियो ने दो साल पहले 4 जी सर्विस के साथ बेहतरीन प्लान लाकर बहुत ही कम समय में देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन गई थी। रिलायंस जियो ने टेलिकॉम जगत की बड़ी बड़ी कंपनियों को क़ड़ा मुकाबला दिया था और अब तैयारी 5 जी सर्विस की है। उम्मीद की जा रही है कि 2020 के मध्य तक 5 जी सर्विस की सुविधा ग्राहकों तक पहुंच जाएगी।

    सरकार का प्लान

    सरकार ने हाल ही में कहा था कि 2019 के अंत तक 5 जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी। ऐसे में अगर स्पेक्ट्रम एलोकेट किए जाते हैं तो रिलायंस जियो की सबसे ज्यादा स्पेक्ट्रम खरीदने की प्लानिंग है। हाल ही में, सरकार ने भारत में 5जी ट्रायल के लिए एरिक्सन, सिस्को, सैमसंग और नोकिया के साथ पार्टनरशिप करने की बात कही है, जबकि चीनी कंपनियां हुवावे और जेडटीई को इस प्रक्रिया से बाहर रखा गया है।

    यह भी पढ़ें:-Jio, Airtel और Voda को BSNL के इस नए पोस्टपेड प्लान से मिलेगी कड़ी टक्कर

    वहीं, 5 जी सर्विस से जुड़ी एक्टिविटीज के लिए सरकार ने 500 करोड़ रुपए का बजट पेश करने की बात कही है। जानकारी के लिए बता दें कि 5जी सर्विस से जुड़ा प्रोजेक्ट मुख्य रुप से रिसर्च और प्रोडक्ट डेवलपमेंट का होगा। अर्बन और रुरल दोनों ही क्षेत्रों में 5जी की सर्विस पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। शहरी क्षेत्रों में यह लक्ष्य 10,000 मेगाबाइट प्रति सेकेंड है तो वहीं ग्रामीण इलाकों में 1000 मेगाबाइट प्रति सेकेंड की स्पीड मुहैया कराने का टारगेट है।

     

    इकोनॉमिक टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक जियो के एक एग्जिक्यूटिव का कहना है कि जियो के पास LTE नेटवर्क तैयार है इसीलिए कंपनी 5जी सर्विस लॉन्च करने में तो सक्षम है, लेकिन अब कंपनी को सिर्फ स्पेक्ट्रम एलोकेशन का इंतज़ार है। एलोकेशन के 6 महीने के अंदर ग्राहकों तक 5जी की सर्विस उपलब्ध करा दी जाएगी। आपको बता दें, कंपनी 5जी नेटवर्क के लिए पहले से ही ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क बिछा रही है। ये ऑप्टिक फाइबर 5जी सर्विस के लिए एक रीढ़ की हड्डी की तरह है।

    मॉर्गन स्टेनली की रिपोर्ट

    मॉर्गन स्टेनली की रिपोर्ट के मुताबिक टेलीकॉम सेक्टर की कंपनियों को 5 जी सर्विस के लिए ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क तैयार करना बेहद जरुरी है। इसके अलावा रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि भारती एयरटेल और रिलायंस जियो ने 5G नेटवर्क तैयार करने के लिए MIMO (मल्टीपल-इनपुट मल्टीपल-आउटपुट), नेटवर्क फंक्शंस वर्चुलाइजेशन (NFV) और सॉफ्टवेयर डिफाइंड नेटवर्किंग (SDN) को शुरू करने का इशारा दिया था।

    यह भी पढ़ें:- Jio Prepaid: 1 दिन से लेकर 1 साल तक के सभी प्लान की लिस्ट, अपने लिए चुनिए बेस्ट प्लान

    जियो के अधिकारी के मुताबिक सबसे बड़ी चुनौती होगी, 5 जी स्पेक्ट्रम को सपोर्ट करने वाले डिवाइसेस की उपलब्धता। हालांकि, हैंडसेट के लिए चिपसेट बनाने वाली दो ग्लोबल कंपनियां अमेरिका की क्वालकॉम और ताइवान की मीडियोटेक 5जी मॉडम तैयार कर रही है, जो कि 5जी सपोर्ट डिवाइस के लिए कंपैटिबल हो। खबरों के अनुसार कई स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां इन दो ग्लोबल कंपनियों से 5जी मॉडम के लिए हाथ भी मिला रही है और 2019 के Q2 तक कई कंपनियां अपना 5 जी सपोर्ट डिवाइस भी लॉन्च कर सकती हैं।

    यह भी पढ़ें:- Jio को पछाड़ने के लिए Voda-Idea का नया प्लान, पेश किए 6 कॉम्बो प्लान

    चूकि रिलायंस जियो के पास 5जी सर्विस के लिए पहले से ही IP-बेस्ड नेटवर्क है इसीलिए सबसे पहले कंपनी का फोकस देश में 5जी मॉडल को तैयार कराना है क्योंकि इससे सर्विस रोलआउट होने में समस्याएं नहीं आएंगी। हालांकि कंपनी डोमेस्टिक और मल्टीनेशनल वेंडर्स के साथ बातचीत करने में जुटी हुई है। जिसमें क्वालकॉम और मीडियाटेक भी शामिल हैं।

    ये कंपनियां भी आमंत्रित

    बता दें कि देश में 5जी सर्विस के आते ही डाउनलोडिंग स्पीड 4 जी के मुकाबले 50-60 फीसदी तक तेज़ हो जाएगी। रिलायंस जियो के अलावा टेलिकॉम विभाग ने 5जी सर्विस रोलआउट से पहले फील्ड ट्रायल के लिए भारती एयरटेल, हाल में विलय हुई वोडाफोन-आइडिया और बीएसएनएल को भी आमंत्रित किया है।

    यह भी पढ़ें:- Jio करेगा Apple में ई-सिम को सपोर्ट, जियो स्टोर पर उपलब्ध होंगे नए iPhone

    English summary
    Mukesh Ambani-owned company Reliance Jio is ready to revive the telecom industry once again. Reliance Jio is preparing to provide the fastest speed internet facility for its consumers. In this case, if all is well, then the company will soon provide 5G internet facility.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more