गूगल ने डूडल कर मनाई नुसरत फ़तेह अली खान की 67वीं जयंती

Written By:

अपनी आवाज और सूफियाना अंदाज से सबको अपना दीवाना बनाने वाले पाकिस्तान के रहने वाले दिवंगत सूफी गायक नुसरत फ़तेह अली खान की 67वीं जयंती पर सर्च इंजन गूगल ने उनका डूडल बनाकर श्रद्धांजलि दी।

आईफोन6 एस के प्री-ऑर्डर पाएं ये बेहतरीन ऑफर्स!

गूगल ने डूडल कर मनाई नुसरत फ़तेह अली खान की 67वीं जयंती

सूफी शैली के प्रसिद्ध कव्वाल नुसरत ने कव्वाली को पाकिस्तान की सरहदों से बाहर निकालकर अतंर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई है। इस डूडल में नुसरत को उनकी मंडली के साथ पारंपरिक वेशभूषा और उनकी चिर परिचित भाव-भंगिमाओं के साथ कव्वाली गाते दिखाया गया है।

24 दिन का बैटरी बैकअप और 13mp कैमरा, कीमत 10,250 रुपए

पाकिस्तान के इस प्रसिद्ध कव्वाल का जन्म 13 अक्टूबर, 1948 को फैसलाबाद में हुआ था। नुसरत ने न केवल पाकिस्तान में बल्कि हिदुस्तान में भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। विश्व के प्रसिद्ध सूफी गायक का 16 अगस्त, 1997 को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उस वक्त वह 49 वर्ष के थे। नुसरत के सूफी गाने आज भी लोगों की ज़ुबान पर हैं।

English summary
Google never forgets wish someone through doodle. On Tuesday google doodle on 67th birth anniversary of nusrat fateh ali khan. He was a great sufi singer from pakistan.
Please Wait while comments are loading...
इतनी सी बात पर तीन दोस्तों ने मिलकर की अपने ही जिगरी यार की हत्या
इतनी सी बात पर तीन दोस्तों ने मिलकर की अपने ही जिगरी यार की हत्या
तांत्रिक ने किया बलात्कार, पति से कहा- तुम्हारी पत्नी बीमार है, यही छोड़ जाओ
तांत्रिक ने किया बलात्कार, पति से कहा- तुम्हारी पत्नी बीमार है, यही छोड़ जाओ
Opinion Poll

Social Counting