भारत में पहली बार की गई गूगल ग्‍लास से सर्जरी

Posted By:

गूगल ग्‍लास का इससे अच्‍छा प्रयोग और क्‍या हो सकता है कि उससे किसी को कुछ सीखने को मिलें। ऐसा ही कुछ भारत के जयपुर में हुआ जहां पर एक सर्जरी को पूरी दुनिया में गूगल ग्‍लास की मदद से लाइव देखा गया। संतोकबा दुर्लभजी हॉस्पिटल में हुई इस सर्जरी को करने वाले डॉक्टर सेलेन जी पारेख गूगल ग्लास पहने हुए थे। यहां पर महिला के पैसों में नसों का गुच्छा बनने की बीमारी की सर्जरी की गई।

पढ़ें: टॉप 5 कम कीमत के सैमसंग स्‍मार्टफोन

भारत में पहली बार गूगल ग्लास पहनकर इस तरह की सर्जरी चेन्नई में पिछले साल की गई थी। डॉक्टर पारेख की टीम ने महिला की 3 सर्जरी की। सर्जरी में डॉक्टर ने गूगल ग्लास पहना। गूगल ग्लास में कैमरा इंटरनेट से जुड़ा हुआ होता है जो सीधे ब्रॉडकास्ट से डॉक्टर्स और मेडिकल के स्टूडेंट्स को सीखने में मदद मिलेगी। डॉक्टर पारेख ने कहा, ‘विडियो से सर्जरी सीखने वाले डॉक्टर्स के लिए यह बेहतर विकल्प है।

पढ़ें: 2014 में खरीदिए ये 10 बेस्‍ट क्‍वॉड कोर एंड्रायड स्‍मार्टफोन

भारत में पहली बार की गई गूगल ग्‍लास से सर्जरी

कॉन्फ्रेंस के दौरान इस ग्लास से सर्जरी किए जाने पर इंफेक्शन का खतरा नहीं होता, अब तक सर्जरी प्रसारण के लिये कैमरामैन को ओटी में रखा जाता था।' इसके अलावा गूगल ग्लास की मदद से डॉक्टर कहीं से भी किसी भी देश के डॉक्टर को राय दे सकेंगे। सर्जरी में ऐसे काम करता है गूगल ग्लास : गूगल ग्लास की बैटरी 45 मिनट रिकॉर्ड करने तक चलती है।

पढ़ें: नोकिया के फैन हैं तो देखिए ये 10 बेहतरीन स्‍मार्टफोन

टाइम को बढ़ाने के लिए एक्सटर्नल बैटरी भी जोड़ी जा सकती है। इसमें एक बोन-कंडक्शन स्पीकर है, जो सिर की हड्डी के जरिए आवाज को इनर इयर में भेज देता है। माइक्रोफोन यूजर की आवाज के जरिए कैमरा, फोन और वेब सर्च करने की कमांड लेता है। इसका कैमरा फोटो और वीडियो को कैद कर सकता है। स्टोरेज 16 जीबी का है। सर्जन जो देख रहा है, उसका फोटो और वीडियो को दूर बैठे किसी स्पेशलिस्ट को भी भेजा जा सकता है।

Please Wait while comments are loading...
पाकिस्तान में भी दिवाली का जश्न, देखें तस्वीरें
पाकिस्तान में भी दिवाली का जश्न, देखें तस्वीरें
8वीं कक्षा की बच्ची की गैंगरेप के बाद हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा
8वीं कक्षा की बच्ची की गैंगरेप के बाद हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा
Opinion Poll

Social Counting