गूगल स्‍मार्टवॉच क्‍यों बेहतर है एपल स्‍मार्टवॉच से जानिए 9 कारण

Written By:

    हाल ही में आई मार्केट रिसर्च को देखकर ये कहा जा रहा है कि एपल स्‍मार्टफोन एक दिन गूगल एंड्रायड स्‍मार्टवॉच से ज्‍यादा की बिक्री कर सकती हैं। यानी ये कहना काफी आसान है कि गूगल स्‍मार्टवॉच का सॉफ्टवेयर एपल स्‍मार्टवॉच का मुकाबला नहीं कर सकता मगर फिर भी गूगल वॉच को खरीदना एपल वॉच से ज्‍यादा फायदेमंद होगा, इसके कई कारण हैं।

    आइए जानते हैं 9 ऐसे कारण जिनकी वजह से एपल स्‍मार्टवॉच गूगल वॉच की जगह खरीदना ज्‍यादा फायदेमंद है।

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    More variety

    एंड्रायड स्‍मार्टवॉच में आपको ढेरों डिज़ाइने और ऑप्‍शन मिलेंगे जबकि एपल वॉच में कुछ सलेक्‍टेड डिज़ाइन मौजूद हैं। इस गूगल एंड्रायड स्‍मार्टवॉच में 8 तरह की डिज़ाइन दी गईं हैं।

    More traditional-looking

    गोल डॉयल के अलावा एंड्रायड में स्‍क्‍वॉयर शेप डॉयल वॉच भी आपको मिल जाएंगी जैसे मोटो 360, एलजी जी वॉच आर।

    More freedom about band

    एंड्रायड स्‍मार्टवॉच में आपको ढेरों बैंड ऑप्‍शन मिल जाएंगे, जैसे अलग-अलग रंग और डिज़ाइन।

    Better contextual info

    एपल स्‍मार्टवॉच के मुकाबले गूगल आपको वॉच में ज्‍यादा सटीक जानकारी देता है।

    Google Now better than Siri

    सीरी वॉयस एसिस्‍टेंट के मुकाबले गूगल नाओ न सिर्फ जल्‍दी वर्क करता है बल्‍कि ये आपकी भाषा को सटीक तरीके से पकड़ता है।

    Phone support

    गूगल स्‍मार्टवॉच में ऐसा सपोर्ट दे रहा है जो आपके आईफोन में भी कंपेटेबल हो सकती है। यानी अगर आप एंड्रायड से आईओएस में शिफ्ट होते हैं तो आपको अपनी स्‍मार्टवॉच बदलने की कोई जरूरत नहीं।

    Easy to buy

    एपल वॉच को खरीदना हर किसी के बस की बात नहीं कारण इसकी ज्‍यादा कीमत मगर एंड्रायड स्‍मार्टवॉच हर रेंज में आपको मिल जाएंगी।

    Battery

    एपल वॉच में दी गई बैटरी सिर्फ 18 घंटे का बैटरी बैकप देती है जबकि एंड्रायड स्‍मार्टवॉच में आपको 24 घंटे का बैटरी बैकप मिलता है।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    With new market research showing that Apple managed to sell more watches in a single day than Android Wear did in a year, it's easy to dismiss Google's smartwatch software as a bust.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more