मौलाना आजाद पर लांच हुआ वेब पोर्टल

Posted By:

केंद्र सरकार ने सोमवार को मौलाना अबुल कलाम आजाद की 125वीं जयंती पर उन्हें समर्पित एक राष्ट्रीय पोर्टल www.maulanaazadheritage.org जारी किया। मौलाना आजाद स्वतंत्र भारत के पहले शिक्षा मंत्री थे। मौलाना आजाद पर पोर्टल शुरू करने के पीछे सरकार का उद्देश्य जनता को उनकी छोड़ी गई विरासत और उनके जीवन से अवगत कराना है। केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया इस तरह का यह दूसरा पोर्टल है।

इससे पहले सरकार महात्मा गांधी की जयंती पर दो अक्टूबर को उनपर पोर्टल शुरू कर चुकी है। सरकार तीसरा पोर्टल देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू पर 14 नवंबर को उद्घाटित करेगी। 14 नवंबर को देश में राष्ट्रीय बाल दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

मौलाना आजाद पर लांच हुआ वेब पोर्टल

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री के. रहमान खान ने पोर्टल का उद्घाटन करने के बाद कहा, मौलाना आजाद भारतीय शिक्षा प्रणाली के पिता थे और नई पीढ़ी को हमारे महान नेता के योगदान और बलिदानों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। पोर्टल में मौलाना आजाद की पूरी जीवनी के साथ ही उनको दी गई उपाधियां और उन पर लिखी गई 20 से ज्यादा किताबों की जानकारी भी उपलब्ध है।

सार्वजिक सूचना पर प्रधानमंत्री के सलाहकार सैम पित्रोदा ने कहा कि भारतीय शिक्षा प्रणाली के लिए मौलाना आजाद के योगदान और उनकी भूमिका को आज भुला दिया गया है। उन्होंने कहा कि पोर्टल के माध्यम से नई पीढ़ी को उनके कार्यो, योगदान और दृष्टिकोण के बारे में जानकारी मिलेगी, जो देश की मौजूदा शिक्षा प्रणाली के बुनियाद हैं।

Please Wait while comments are loading...
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting