अपनी पहचान कैसे रखें सुरक्षित?

Posted By:

साइबर टेक की इस दुनियां में इंटरनेट एक दूसरे से कनेक्‍ट रहने का सबसे बड़ा जरिया है लेकिन ऐसे में हमें थोड़ा होशियार रहने की जरूरत है। क्‍योंकि आए दिन बैंक एकाउंट, सोशल नेटवर्किंग एकाउंट हैक होने की खबरें सुनने को मिल जाती हैं। हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिससे जब भी आप एटीएम या फिर अपने लैपटॉप में बैंक एकाउट पासवर्ड डालें तो वो सुरक्षित रहेगा।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

शोल्‍डर सर्फिंग

ये कोई तकनीकी ट्रिक नहीं है अगर आप कभी एटीएम में पैसे निकालने जाए और एटीएम में काफी भीड़ हो तो पासवर्ड डालते समय अपने हाथों की कोहनी या इस्‍ते माल करें, जिससे पीछे खडा व्‍यक्ति आपका पासवर्ड न देख पाए।

वॉयरलैस आईडेंटिटी थेफ्ट

आपके ऑफिस कार्ड में आईडी के अलावा कई दूसरी जानकारी सेव रहती है। दरअसल अटेडेंस कार्ड में एक RFID चिप होती है जिसमें ये सभी जानकारी सेव रहती है। इसलिए अटेंडेस कार्ड को साधारण कार्ड मानकर किसी अंजान व्‍यक्ति को मत दें।

मालवेयर

मालवेयर मतलब कभी कभी लैपटॉप या फिर टैबलेट में हम कुछ ऐसे सॉफ्टवेयर इंस्‍टॉल कर लेते हैं जो हमारी पर्सनल इंफार्मेशन को चुरा कर उसका गलत प्रयोग करना शुरु कर देते हैं। इसलिए एंटीवायरस के साथ हमेश ओरिजनल एप्‍लीकेशन इंस्‍टॉल करें।

सभी चीजें मिटा दें

ये हमारी पुरानी आदत होती है जब भी हम कोई नई डिवाइस लेते हैं पुरानी डिवाइस को ऐसे ही फेंक देते हैं लेकिन फोन, लैपटॉप या फिर टैबलेट के मामले में ऐसी असावधानी न बरते। अगर आप नया फोन ले रहें तो पुराने फोन को किसी दूसरे को देने से पहले उसमें दी गई सारी इंफार्मेशन डिलीट कर दें ताकि वो किसी गलत आदमी के हाथों में न लग जाए।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Please Wait while comments are loading...
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: नॉर्दन रेलवे के जीएम समेत 8 के खिलाफ एक्‍शन
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: नॉर्दन रेलवे के जीएम समेत 8 के खिलाफ एक्‍शन
मुंबई: सड़क हादसे में दो टीवी एक्टर्स की मौत, कलर्स के एक सीरियल में काम करते थे दोनों
मुंबई: सड़क हादसे में दो टीवी एक्टर्स की मौत, कलर्स के एक सीरियल में काम करते थे दोनों
Opinion Poll

Social Counting