India

कैसा होगा भारत का Chip-based e-passport ,जाने पूरी खबर

|

भारत सरकार बहुत जल्द ई-पासपोर्ट ( e-passports ) लॉन्च करने पर काम कर रही है। सरकार के इस फैसले से अंतरराष्ट्रीय यात्रा को आसान होने ही वाली है साथ ही पासपोर्ट धारकों का डेटा भी सुरक्षित रहेगा ।

 

इंटरनेट बंद होने से लोकतंत्र को हो सकता है नुकसान : UNइंटरनेट बंद होने से लोकतंत्र को हो सकता है नुकसान : UN

साथ ही आपको बता दें सरकार ने पिछले साल ई-पासपोर्ट ( e-passports ) की घोषणा की थी, लेकिन अब विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शुक्रवार को फिर से पुष्टि की कि इस साल के अंत तक ई-पासपोर्ट ( e-passports ) शुरू हो जाएंगे। जयशंकर ने कहा कि ई-पासपोर्ट ( e-passports ) के साथ, भारत सरकार का लक्ष्य "नागरिक अनुभव और सार्वजनिक वितरण" ( "Citizen Experience and Public Delivery" ) में सुधार करना है।

Aadhaar-PAN Link: 30 जून से पहले आधार–पैन को कर दें लिंक, वरना भरना पड़ेगा जुर्माना, जानें स्टेप्सAadhaar-PAN Link: 30 जून से पहले आधार–पैन को कर दें लिंक, वरना भरना पड़ेगा जुर्माना, जानें स्टेप्स

उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा…

उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा…

"पासपोर्ट सेवा दिवस 2022 के अवसर पर भारत और विदेशों में हमारे सभी पासपोर्ट जारी करने वाले प्राधिकरणों के साथ जुड़कर मुझे बहुत खुशी हो रही है।"जैसा कि हम इस साल 24 जून को पासपोर्ट सेवा दिवस मनाते है। विशेष रूप से, चिप-आधारित ई-पासपोर्ट कोई नई अवधारणा नहीं है। 100 से अधिक देश पहले से ही ई-पासपोर्ट की पेशकश कर रहे है।

अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन ( International Civil Aviation Organization ) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, आयरलैंड, जिम्बाब्वे, मलावाई, भारत के पड़ोसी देशों पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश सहित अन्य देशों ने ई-पासपोर्ट उपयोग किया जाता है।

तो, ई-पासपोर्ट वास्तव में क्या है और यह यात्रा को कैसे आसान और सुरक्षित बनाएगा? यहां कब रिलीज होने वाला है ऐसे ही सवालों का जवाब हम आपके लिए लेकर आए है...

ई-पासपोर्ट क्या है?
 

ई-पासपोर्ट क्या है?

आपको बता दें ई-पासपोर्ट एक सामान्य पासपोर्ट की तरह ही काम करेंगे, वे अंदर एक छोटी इलेक्ट्रॉनिक चिप के साथ आएंगे, कुछ हद तक ड्राइविंग लाइसेंस के समान। पासपोर्ट के अंदर इस्तेमाल की गई चिप पासपोर्ट धारक के सभी महत्वपूर्ण डिटेल्स को सेव करेगी। इस जानकारी में शामिल है - नाम, जन्म तिथि, एड्रेस और अन्य चीजें।
ई-पासपोर्ट जारी करने के पीछे का अहम उद्देश्य है नकली पासपोर्ट के प्रचलन को कम करना ,सुरक्षा को बढ़ाना और डेटा से छेड़छाड़ को कम करना।

ई-पासपोर्ट कौन बनाएगा ?

ई-पासपोर्ट कौन बनाएगा ?

टेक दिग्गज टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ई-पासपोर्ट पर काम कर रही है और इस साल के अंत तक सेवा शुरू कर देगी, जैसा कि भारत सरकार द्वारा पहले ही पुष्टि की जा चुकी है। रिपोर्टों के अनुसार, TCS को विदेश मंत्रालय (MEA) के साथ एक नया कमांड और नियंत्रण केंद्र स्थापित करने और परियोजना की सभी बैकएंड आवश्यकताओं का समर्थन करने के लिए एक नया डेटा केंद्र स्थापित करने के लिए कहा गया है।

ई-पासपोर्ट कब शुरू होगा?

ई-पासपोर्ट कब शुरू होगा?

जैसा कि विदेश मंत्री ने पुष्टि की, ई-पासपोर्ट इस साल के अंत तक एक वास्तविकता बन सकते है। अभी विशेष तारीख की घोषणा नहीं की गई है।

क्या मौजूदा पासपोर्ट धारकों को अपग्रेड करने की आवश्यकता होगी?

न तो सरकार ने घोषणा की है कि सभी मौजूदा पासपोर्ट धारकों को ई-पासपोर्ट में अपग्रेड करने की आवश्यकता होगी या ई-पासपोर्ट के लिए आवेदन करने के लिए मौजूदा पासपोर्ट की समय सीमा समाप्त होने तक प्रतीक्षा करनी होगी। ई-पासपोर्ट के लिए आवेदन प्रक्रिया नार्मल पासपोर्ट के समान होने की उम्मीद है। हालांकि देश में आधिकारिक रूप से सेवा उपलब्ध होने के बाद नए आवेदकों को सीधे ई-पासपोर्ट मिल जाएगा।

कैसा दिखेगा ई-पासपोर्ट?

कैसा दिखेगा ई-पासपोर्ट?

भारत में ई-पासपोर्ट (अन्य देशों के समान) एक सामान्य पासपोर्ट की तरह दिखाई देंगे, जिसमें एक चिप लगा होगा।

Windows 11 में कैसे चेक करें CPU का टेंपरेचर?Windows 11 में कैसे चेक करें CPU का टेंपरेचर?

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

Read more about:
English summary
The Government of India is working on launching e-passports very soon. With this decision of the government, international travel is going to be easy, as well as the data of passport holders will also be safe. India on Friday reaffirmed that e-passports will be rolled out by the end of this year.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X