IIT मद्रास का नया स्टार्टअप, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का प्रशिक्षण कराएगी मुहैया

    |

    आईआईटी मद्रास यानि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास शुक्रवार को एक खास तरह का स्टार्ट अप शुरू किया है। इस स्टार्ट अप के जरिए छात्रों को नाम मात्र की लागत पर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) का प्रशिक्षण मुहैया कराया जाएगा। इसका मकसद इस क्षेत्र में विकास के कार्यबल को तैयार और पहले ज्यादा मजबूत करना है। इस स्टार्टअप पढ़ाई में डीप लर्निंग में कम पैसों में हैंड्स ऑन कोर्स प्रदान करेगा।

    IIT मद्रास का नया स्टार्टअप, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का प्रशिक्षण कराएगी मुहैया

     

    आपको बता दें कि यह एआई का सबसे सफल कदम साबित होगा। इस स्टार्ट अप के जरिए सभी छात्रों, फैकल्टी और पेशेवरों को फायदा होगा। इस स्टार्टअप के जरिए लाभ पाने के लिए छात्रों, फैकल्टियों का बैकग्राउंड गणित और पायथन का होना चाहिए। इसमें छात्रों और फैकल्टी के लिए 1000 रुपए का फीस दिया गया है। वहीं पेशेवरों के लिए 5,000 रुपए की फीस निर्धारित की गई है। 

    यह भी पढ़ें:- अमेजन पर नारियल के झिलके की कीमत 1,200 रुपए

    इस स्टार्टअप की वजह से इनके अलावा छोटे और मध्यम व्यापारियों के साथ साझेदारी करके एआई संचालित ऐप को भी चालू करेगा। इस वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए मूल्य भी पैदा किया जाएगा। इस बारे में बात करते हुए आईआईटी-मद्रास के असिस्टेंट प्रोफेसर मितेश खापरा ने कहा कि, “भारतीय आईटी उद्योग प्रौद्योगिकी के विभिन्न उतार-चढ़ाव से गुजरा है और नए कौशल की वजह से ही विस्तार प्राप्त कर रहा है। एआई की वर्तमान लहर बहुत ही अलग है। इसमें गणितीय अंतदृष्टि के साथ ही हैंड्स-ऑन अनुभव की भी जरूरत है।” उन्होंने कहा, “हमें ऐसे कोर्स की जरूरत है, जिसमें इन दोनों के बीच सही संतुलन हो। तभी भारत एआई युग में प्रकट तौर पर उत्पादों और सेवाओं का उत्पादन कर पाएगा।”

    यह भी पढ़ें:- Jio का नेट प्रॉफिट 65% बढ़कर 831 करोड़ रुपए हुआ

    आपको बता दें कि चार महीने के इस पाठ्यक्रम की शुरुआत 1 फरवरी से होगी और इसमें शामिल होने के लिए 24 जनवरी तक पंजीकरण कराया जा सकेगा। अब अगले 4 महीनों में यह देखना दिलचस्प होगा कि आईआईटी मद्रास के इस नई योजना का कितना फायदा लोगों को पहुंचता है।

    English summary
    IIT Madras i.e. Indian Institute of Technology Madras has started a special kind of start up on Friday. Through this start-up, students will be provided with Artificial Intelligence (AI) training at the cost of nominal fees. Its purpose is to prepare and strengthen the workforce of development in this region.

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more