सोशल मीडिया में बढ़ रही फेक न्यूज पर रोक लगाएगा, वेब-बेस्ड टूल

    हमारा सोशल मीडिया का रेंज जितना बड़ा है, उतने ही लोग उससे जुड़े हुए हैं। लोग दिनभर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़े रहते हैं। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के बढ़ते इस्तेमाल ने इस प्लेटफॉर्म पर फेक न्यूज यानि झूठी ख़बरों का सिलसिला काफी बढ़ा दिया है। इन प्लेटफॉर्म पर काफी भरोसा होने के चलते लोग इन फेक न्यूज पर विश्वास कर लेते हैं।

    सोशल मीडिया में बढ़ रही फेक न्यूज पर रोक लगाएगा, वेब-बेस्ड टूल

     

    हालांकि सोशल मीडिया कंपनियां भी इन पर रोक लगाने के लिए लगातार कोशिश कर रही है। बता दें, फेक न्यूज को रोकने के लिए वैज्ञानिकों ने नया वेब-बेस्ड टूल बनाया है। इस वेब-बेस्ड टूल के इस्तेमाल से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में फैलने वाली अफवाहों और भ्रामक खबरों पर रोक लगाई जाएगी।

    फेक न्यूज पर लगेगी लगाम

    वहीं, कई देशों की सरकारें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक, ट्विटर और व्हॉट्सऐप को बढ़ती फैक न्यूज को रोकने के लिए दवाब डाल रही हैं। फेक न्यूज के चलते व्हॉट्सऐप को सरकार की तरफ से चेतावनी भी मिल चुकी है। हालांकि अभी तक ये सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेक न्यूज रोकने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा पाई हैं। इसी के चलते वैज्ञानिकों ने फेक न्यूज को रोकने के लिए नया वेब-टूल इजाद किया है।

    किसने किया अविष्कार

    टूल की बात करे तों इसे अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन के शोधकर्ताओं द्वारा तैयार किया गया है। इस टूल मीडिया बायस/फेक्ट चेकर के माध्यम से फेक न्यूज का पता लगाया जा सकेगा। जिससे लोगों को इस बारें में पता चल सकेगा। ये टूल हेल्थ मैट्रिक Iffy Quotient प्लेटफॉर्म पर काम करेगा।

    यह भी पढ़ें:- फेक न्यूज़ से बचने के लिए फेसबुक ने निकाली स्कोर स्कीम

    बता दें, ये टूल न्यूजवार्प और मीडिया बायस/फेक्ट चेकर के जरिए डाटा ट्रेक करेगा। बता दें, NewsWhip सोशल मीडिया इंगेजमेंट ट्रैफिक फर्म है, जो कि हर दिन हजारों साइट्स के यूआरएल कलेक्ट करती है। इसके बाद इंफॉर्मेशन गेदर करती है कि इन साइट्स के फेसबुक और ट्विटर पर कितनी इंगेजमेंट है। ये टूल मीडिया बायस/फेक्ट चेकर लिस्ट के जरिए URLs को तीन कैटिगिरी में डिवाइस करेगा। जिसके बात पता लगाया जा सकेगा कि कौन सी खबर झूठी है।

    English summary
    Increasing use of social media platforms has increased the frequency of fake news on this platform. To stop Fake News, scientists have created a new web-based tool. Use of this web-based tool will prevent rumors and misleading reports spread across social media platforms.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more