दुनिया को किया हैरान, भारतीय ने बनाया 3-डी लाउडस्पीकर

Posted By:

भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र अपूर्व किरण के नेतृत्व में कोरनेल युनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने एक 3-डी प्रिंटेड लाउडस्पीकर तैयार किया है। यह लाउडस्पीकर प्लास्टिक प्रवाहकीय और चुंबकीय हिस्सों को एकीकृत करते हुए पिंट्रर के बाहर आते ही लगभग प्रयोग के लिए तैयार हो जाता है। इस रोमांचक खोज का मतलब है कि हिस्सों और घटकों से उपभोक्ता उत्पाद को बनाने की प्रक्रिया की अपेक्षा, मांग होने पर पूर्ण प्रक्रिया उत्पाद एक ही बार में तैयार किए जा सकते हैं।

पढ़ें: लोगों की बेतुकी हरकतों ने मचाया इंटरनेट पर धमाल

कोरनेल युनिवर्सिटी द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, इस उपकरण को बनाने के लिए मैकेनिकल इंजीरियरिंग स्नातक के छात्र किरण और रॉबर्ट मैक्कर्डी ने मैकेनिकल और एअरोस्पेस इंजीनियरिंग के सहायक प्रोफेसर होड लिप्सन के साथ काम किया। नए प्रिंटेड मिनी स्पीकर को एंप्लीफायर तारों से जोड़कर इसका प्रदर्शन शुरू करते हुए किरण ने कहा, सब कुछ 3-डी प्रिंटेड है। प्रदर्शन के लिए, एंम्प्लीफायर में राष्ट्रपति बराक ओबामा के स्टेट ऑफ द यूनियन भाषण को चलाया गया।

पढ़ें: गूगल स्ट्रीट व्यू से देखें कुछ अनदेखे नजारे

दुनिया को किया हैरान, भारतीय ने बनाया 3-डी लाउडस्पीकर

पढ़ें: ऐसी तस्‍वीरें जो जिन्‍हें देखकर लोग हैरान रह जाते हैं

किरण ने बताया, "लाउडस्पीकर अपेक्षाकृत सरल वस्तु है। घरों में रखने के लिए यह प्लास्टिक, प्रवाहकीय तार और एक चुंबक से बना होता है। इसके डिजाइन और सटीक सामग्री को लेकर मुश्किल आ रही है, इसे एक सुगम आकार में बनाया जा सकता है। किरण ने इसके लिए प्रयोगशाला के अनुकूलन अनुसंधान प्रिंटर - फैब एट होम्स का प्रयोग किया जो विभिन्न काट्रिज,

नियंत्रयण सॉफ्टवेयर और अन्य मानकों को जोड़ने में वैज्ञानिकों की मदद करता है।कंडक्टर के लिए किरण ने एक चांदी की इंक का प्रयोग किया और चुंबक के लिए उन्होंने रसायन और बायोमॉलीक्यूलर इंजीनियरिंग में स्नातक छात्र समन्वय श्रीवास्तव की मदद से स्ट्रोंटियम फेराइट का एक चिपचिपा मिश्रण तैयार किया। टेलीग्राफ का विस्तृत डिजिटल मॉडल बनाने के बाद उन्होंने रिसर्च फैबर पर इसका प्रिंट किया।

Please Wait while comments are loading...
आधार धारकों को मोदी सरकार देगी एक लाख कैश, जानें वायरल मैसेज की सच्चाई
आधार धारकों को मोदी सरकार देगी एक लाख कैश, जानें वायरल मैसेज की सच्चाई
मुजफ्फरनगर रेल हादसा: 10 के मारे जाने की खबर, नोट करें हेल्‍पलाइन नंबर
मुजफ्फरनगर रेल हादसा: 10 के मारे जाने की खबर, नोट करें हेल्‍पलाइन नंबर
Opinion Poll

Social Counting