भारतीय रेलवे शुरू करेगा UTS on Mobile ऐप, टिकट बुक करना होगा आसान

    भारतीय रेलवे आए दिनों अपने यात्रियों को बेहतर सेवा प्रदान करने का परिश्रम करता रहता है। इस बार भी भारतीय रेलवे ने कुछ ऐसी ही सुविधा को पेश किया है। बता दें, भारतीय रेलवे ने एक नया मोबाइल एप्लिकेशन पेश किया है। जो यात्रियों को अनारक्षित टिकट बुकिंग और रद्द करने में मदद करेगा।

    भारतीय रेलवे शुरू करेगा UTS on Mobile ऐप, टिकट बुक करना होगा आसान

     

    रेलवे ने इस ऐप का नाम UTS on Mobile रखा है। ऐप को विंडो और एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए शुरू कर दिया गया है। अभी तक यह सुविधा रेलवे के कुछ ही जोन्स में अवेलेबल थी लेकिन अब रेलवे देश भर में इसे शुरू करने जा रहा है।

    यह भी पढ़ें:- रेलगाड़ियों में अब हवाई जहाज की तरह ब्लैक बॉक्स

    यह सुविधा 1 नवंबर से पूरे देश में लागू हो जाएगी। बता दें, उत्तर मध्य रेलवे ने अनारक्षित टिकटों की कैशलैस , पेपरलेस और कतार फ्री बुकिंग के लिए UTS on Mobile ऐप लॉन्च किया है। सुविधा की बात यह है कि यूटीएस मोबाइल ऐप का इस्तेाल करने वाले यात्री ट्रेन टिकट की हार्ड कॉपी के बिना भी यात्रा कर सकते हैं।

    ट्रेन यात्रा के दौरान, जब टिकट जांच कर्मचारी टिकट मांगते हैं, तो यात्री बस यूटीएस ऐप में 'शो टिकट' ऑपशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐप के साथ यात्री सीजन टिकट के साथ टिकट को रिन्यू भी कर सकेंगे। ऐप में ट्रेवल टिकट बुकिंग के दो ऑप्शन मिलते हैं। पहला है नॉर्मल बुकिंग और दूसरा क्विक बुकिंग। नॉर्मल बुकिंग का इस्तेमाल करके कहीं से भी टिकट बुक किया जा सकता है, लेकिन इस ऑप्शन के माध्यम से टिकट बुक करने पर यात्रियों को टिकट की प्रिंट कॉपी ले जानी होगी।

    कैसे कर सकेंगे ऐप का इस्तेमाल

    1. सबसे पहले, यात्री Google / Windows / Apple ऐप स्टोर के माध्यम से मोबाइल ऐप 'UTS on Mobile' को डाउनलोड कर सकेंगे।

    2. ऐप बिल्कुल फ्री है और यूजर्स बिना किसी शुल्क के इसे डाउनलोड और इंस्टॉल कर सकते हैं।

     

    3. एक बार ऐप डाउनलोड हो जाने के बाद, यात्री को अपना मोबाइल नंबर, निकटतम स्टेशन, डिफ़ॉल्ट बुकिंग ट्रेन टाइप, क्लास, टिकट का प्रकार, यात्रियों की संख्या और अक्सर यात्रा के मार्ग प्रदान करके पंजीकरण करना होता है।

    4. मोबाइल एप्लिकेशन मोबाइल नंबर की वैधता सुनिश्चित करने के लिए यूजर्स आईडी फ़ील्ड के खिलाफ निर्दिष्ट मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेज देगा।

    5. सफल पंजीकरण के बाद, उपयोगकर्ता को सूचित करने के लिए एक एसएमएस भेजा जाएगा। जिसके बाद जीरो-बैलेंस आर-वॉलेट खाता सक्रिय हो जाएगा।

    ध्यान देने वाली बात यह है कि मोबाइल ऐप सेवाओं पर यूटीएस ऐप 17 साल से कम उम्र के व्यक्ति या भारतीय रेलवे द्वारा सेवा से निलंबित या हटाए गए व्यक्ति के लिए उपलब्ध नहीं होगा। बता दें, रेलवे सूचना प्रणाली (सीआरआईएस) द्वारा विकसित मोबाइल ऐप पर यूटीएस, डिजिटल भुगतान विधियों के उपयोग को बढ़ाने के लिए भारतीय रेल द्वारा पेश किया गया था।

    इस ऐप के इस्तेमाल के बाद कई फायदें यात्रियों के साथ रेलवे को भी मिलेंगे। ऐप का उपयोग कैश पर निर्भरता को कम करेगा। साथ ही लेनदेन लागत में भी कटौती करेगा। वहीं ऐप रेलवे राजस्व के उचित डिजिटल रिकॉर्ड बनाएगा और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि पेपर टिकटों के उपयोग को कम करेगा।

    English summary
    Indian Railways has introduced a new mobile application. Which will help in booking and canceling unreserved tickets. Railway has named this app UTS on mobile.Apps have been started for windows and Android platforms. Until now this facility was available in few Jones of railway but now the Railways will be launched all over the country.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more