20 जवानों की शहादत के बाद भारत ने चीनी प्रॉडक्ट्स का बहिष्कार करने की खाई कसम

|

भारत और चीन के बीच बढ़ चुके विवाद ने अब देश में चीन के प्रति नफरत की भावना को काफी बढ़ा दिया है। इस वजह से भारत में चीनी प्रॉडक्ट्स को बॉयकॉट करने की मुहीम ने एक बार फिर तूल पकड़ लिया है। दरअसल, मंगलवार को चीन ने लद्दाक की गलवां घाटी में भारतीय सेना के साथ हिंसक झड़प की, जिसके वजह से भारत के 20 जवान शहीद हो गए। हालांकि इस झड़प में चीन को भी नुकसान हुआ है लेकिन उसने अभी तक अपने नुकसान की घोषणा नहीं की है।

20 जवानों की शहादत के बाद भारत ने चीनी प्रॉडक्ट्स का बहिष्कार करने की खाई कसम

 

चीनी प्रॉडक्ट का बॉयकॉट

भारत और चीन के बीच बढ़े इस विवाद की वजह से अब भारतीय नागरिकों ने गूगल पर चीनी प्रॉडक्ट्स की लिस्ट को सर्च करना शुरू कर दिया है, ताकि वो उन्हें बॉयकॉट करके चीन की कमर तोड़ सकें। गूगल सर्च इंजन में पिछले 24 घंटे से सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले कीवर्ड्स (List of Chinese apps, List of Chinese apps in India, List of Chinese products used in India, Alternative to Chinese Products, चीनी सामान की सूची, चीनी सामान की लिस्ट, चीनी सामान की लिस्ट, चीनी सामान का बहिष्कार ) हैं। इन सभी कीवर्ड को भारत के लोग सर्च कर रहे हैं ताकि वो चीनी प्रॉडक्ट का बहिष्कार कर सकें और उसकी आर्थिक परिस्थिति को कमजोर कर सके।

यह भी पढ़ें:- Realme X3 सीरीज को भारत में इस दिन किया जाएगा लॉन्च

आपको बता दें कि पिछले महीने ही जब भारत-चीन सीमा पर टेंशन बढ़ी थी, तब 3 Idiots में अपने काम से प्रेरित करने वाली सोनम वांगचुक ने कहा था कि, भारतीयों को चीनी उत्पादों का बहिष्कार करना चाहिए। उनके इस बयान के बाद में सोशल मीडिया पर #BoycottChina, #BoycottMadeinChina, #BoycottChineseApps और #BoycottTiktok ट्रेंड करने लगा।

20 जवानों की शहादत के बाद सब खत्म

अब एक बार फिर तनातनी काफी ज्यादा बढ़ गई है और कल भारत से झड़प कर 20 जवान की शहादत के बाज पूरा देश आग बबूला हो रहा है। इस वजह से भारत के लोग सभी चीनी प्रॉडक्ट, चीनी ऐप्स, चीनी सर्विस को बंद कर रहे हैं। असल में सीमा पर हुई झड़प का विरोध करने के लिए बहुत सारे लोगों ने टिकटॉक को अनइंस्टॉल भी कर दिया है। चीनी ऐप को डिलीट करने के लिए एक ऐप भी है।

 

यह भी पढ़ें:- लॉकडाउन में किसी भी राज्य में ट्रैवल करने के लिए यहां से बनाएं e-Pass

इस बीच, कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने 16 जून को भारत और चीन के बीच सीमा तनाव के बाद 500 से अधिक in मेड इन चाइना 'उत्पादों का बहिष्कार करने की सूची जारी की है।

सूची में शामिल उत्पादों में खिलौने, कपड़े, वस्त्र, परिधान, रोजमर्रा की वस्तुएं, रसोई के सामान, फर्नीचर, हार्डवेयर, जूते, हैंडबैग, सामान, इलेक्ट्रॉनिक्स, सौंदर्य प्रसाधन और उपहार की वस्तुएं, इलेक्ट्रॉनिक्स, घड़ियां, रत्न और आभूषण, स्टेशनरी, कागज, घरेलू वस्तुएँ शामिल हैं। , स्वास्थ्य उत्पादों, ऑटो भागों जैसे प्रॉडक्ट्स शामिल हैं।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
The growing dispute between India and China has now increased the feeling of hatred towards China in the country. Due to this, the campaign to boycott Chinese products in India has once again taken hold. In fact, on Tuesday, China fought violently with the Indian Army in the Galvan Valley of Ladak, due to which 20 Indian soldiers were martyred.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
X