Jio DTH और Entertainment सेक्टर में अपना दबदबा बनाने के लिए तैयार

    रिलायंस जियो हर सफल कोशिश करता है जिससे वह बाकी टेलिकॉम कंपनियों से आगे रह सके। 2016 से अब तक रिलायंस जियो काफी आगे बढ़ गया है। जियो अपने यूजर्स को शानदार ऑफर्स और सर्विस पेश करके सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहा है। टेलिकॉम सेक्टर में अपना पैर जमाने के बाद रिलायंस जियो अब डीटीएच और ब्रॉडबैंड सेक्टर में कदम रख रहा है। बता दे, रिलायंस जियो ने डीटीएच के साथ हैथवे केबल और डेन नेटवर्क्स के साथ साझेदारी की है।

    Jio DTH और Entertainment सेक्टर में अपना दबदबा बनाने के लिए तैयार

     

    जिससे वह ब्रॉडबैंड सेक्टर में भी अपना पर्चा फैला सके। हैथवे केबल और डेन नेटवर्क्स की बात करें तो, इन दोनों के ही भारतीय बाजार में अच्छे शेयर हैं। जिससे इन फर्मों के साथ साझेदारी से जियो को अपनी पहुंच बढ़ाने में मदद मिलेगी। रिलायंस जियो ने पहले कहा था कि वह दिवाली के मौके पर अपने ग्राहकों के लिए Jio GigaFiber सर्विस को शुरू करेगा। हालांकि ऐसा नहीं हो सका, क्योंकि दूरसंचार पिछले मील कनेक्टिविटी के मुद्दों का सामना कर रहा है।

    यह भी पढ़ें:- Jio, Voda या Airtel, जानिए और चुनिए अपना सबसे बेहतर प्रीपेड प्लान

    इसी के चलते इन फर्मों से साझेदारी करके जियो अपना रास्ता साफ करेगा। बता दें, जियो का लक्ष्य 1,100 कस्बों और शहरों में 50 मिलियन ग्राहकों तक अपनी सर्विस पहुंचाना है। Jio GigaFiber सर्विस न केवल फास्ट स्पीड वाली ब्रॉडबैंड सेवा प्रदान करती है बल्कि यह डीटीएच, वीआर, गेमिंग और विभिन्न स्मार्ट होम जैसे बाकी सर्विस भी यूजर्स तक पहुंचाएगी।

    लीवरेज एलसीओ और एमएसओ के लिए रिलायंस जियो

    साझेदारी के चलते रिलायंस जियो ने कंटेंट और मीडिया वितरण पेश करने वाले अन्य दूरसंचार की तुलना में सबसे ऊपर स्थान प्राप्त कर लिया है। बता दें, हैथवे और डेन नेटवर्क्स जैसी कंपनियों के साथ, टेलको के पास 24 मिलियन यूजर्स तक पहुंच होगी। जिनमें से दो मिलियन ब्रॉडबैंड यूजर्स हैं।

    यह भी पढ़ें:- Jio यूजर्स के लिए iPhone में eSim सेवा शुरू, जानें कैसे करेंगे एक्टिवेट

     

    रिलायंस जियो पिछले कुछ मील कनेक्टिविटी की सुविधा के लिए कई एलसीओ (स्थानीय केबल ऑपरेटर) और एमएसओ (मुटी सिस्टम ऑपरेटर) की ताकतों को तैनात करने में सक्षम होंगे। अब रिलायंस जियो के पास 27,000 एलसीओ तक पहुंच हैं। रिसर्च फर्म मीडिया पार्टनर्स एशिया के वाइस- प्रेसिडेंट मिहिर शाह ने लाइवमैंट को इस साझेदारी के बारें में बताया कि केबल ऑपरेटरों में रिलायंस जियो के हालिया खरीद से under-penetrated fixed-line सेगमेंट में जोरदार वृद्धि होगी।

    उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि रिलायंस जियो मजबूत क्षेत्रीय एमएसओ हासिल करने पर ध्यान केंद्रित करने वाले अकार्बनिक विकास को जारी रख सकता है। जबकि अन्य छोटे ऑपरेटरों को दौड़ में शामिल होने के लिए मजबूर किया जा सकता है।

    DTH सेक्टर में वृद्धि

    लोगों द्वारा डेटा उपयोग में वृद्धि के साथ फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड सेवाओं की मांग बढ़ रही है। रिलायंस जियो अपनी फास्ट स्पीड, higher Fair Usage Policy लिमिट्स और नई वेल्यू एडेड सर्विसों के साथ इस गेप को भरेगा। साथ ही रिलायंस जियो का नया सेटअप बॉक्स यूजर्स के विजुअल एक्सपिरियंस को अपनी हाई स्पीड के साथ बढाएगा। रिलायंस जियो के पास ब्रॉडकास्टरों के साथ ऑफर्स पर बातचीत करने के लिए लाभ की स्थिति होगी। जो बाकी कंपनियों के लिए चिंता का विषय बन सकती है। वहीं, विशेषज्ञों का मानना ​​है कि डीटीएच उद्योग समग्र रूप से बढ़ेगा क्योंकि रिलायंस जियो पिछले मील कनेक्टिविटी और बेहतर बुनियादी ढांचे को दूर करने के लिए 5,000 करोड़ रुपये से ऊपर का निवेश कर रहा है।

    English summary
    Reliance Jio is now stepping into DTH and broadband sector after establishing its foot in the telecom sector. Tell us, Reliance Jio has partnered with DTH, along with Hathway Cable and Dan Networks, from which he could spread his form in the broadband sector.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more