Jio और UNISOC करेंगे Lava और Micromax के साथ साझेदारी, सस्ते मिलेंगे 4G स्मार्टफोन

    रिलायंस जियो और जियोफोन 2 दोनों ही काफी कम समय में काफी ज्यादा पॉपुलर हुए। जिसकी सबसे खास वजह इनका बजट फ्रेंडली होना भी है। रिलायंस जियो सस्ते दरों पर अपने यूजर्स को कमाल की सर्विस उपलब्ध करवा रहा है। जिसके चलते लोगों का झुकाव रिलायंस कंपनी की तरफ ज्यादा हो गया है। लोग जियोफोन 2 को भी काफी पसंद कर रहे हैं।

    Jio और UNISOC करेंगे Lava और Micromax के साथ साझेदारी, सस्ते मिलेंगे 4G स्मार्टफोन

     

    बता दें, दोनों जियोफोन UNISOC चिपसेट्स द्वारा संचालित किए गए हैं। यह एक चीनी स्मार्टफोन चिपसेट निर्माता है। जिसे पहले स्प्रेडट्रम के नाम से जाना जाता था। जियोफोन और जियोफोन 2 फोन लॉन्च करने के बाद जियो और UNISOC दोनों भारत में सस्ते 4 जी स्मार्टफोन लाने के उद्देश्य से भारत के होडग्राउन स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी यानी माइक्रोमैक्स और लावा से बातचीत कर रहे हैं।

    Jio की नई साझेदारी

    इस पहल के साथ, जियो, UNISOC , लावा और माइक्रोमैक्स देश के हर कोने में 4 जी कनेक्टिविटी को लाने का प्रयास कर रहे हैं। इस प्रयास से यूजर्स को तेज़ वायरलेस मोबाइल इंटरनेट की पहुंच भी मिलेगी। लावा और माइक्रोमैक्स जैसी कंपनियां यूजर्स के लिए बजट के अनुकूल स्मार्टफोन लॉन्च करती है, लेकिन उन्हें व्हाट्सएप, फेसबुक और अन्य कुछ प्रमुख फीचर्स जैसे इंटरनेट ब्राउज़िंग की कमी पड़ती है।

    यह भी पढ़ें:- Jio के रास्ते पर चलेगा Airtel, जानिए क्या होगा बदलाव

    UNISOC चिपसेट द्वारा इन सुविधाओं को सस्ते फोन पर लाया जाएगा। क्वालकॉम और मीडियाटेक जैसी अन्य चिप बनाने वाली कंपनियों ने UNISOC को टक्कर दी है। ईटी की रिपोर्ट में बताया गया कि उभरते बाजार में UNISOC के लिए सरवाइव करना मुश्किल हो रहा है। क्योंकि इसका अधिकांश राजस्व भारत में जियोफोन बिक्री में तेजी से आता है।

    Lava और Micromax से बढ़ेगी UNISOC की रेवेन्यू

    JioPhone और JioPhone 2 दोनों को भी भारत में काफी ज्यादा सफलता मिली है। लेटेस्ट रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस जियो देश में लगभग 40 मिलियन जियोफोन इकाइयों को बेचने में कामयाब रहा है। जिसमें पिछले तीन महीनों में हर महीने 7 मिलियन की औसत बिक्री शामिल है। जियो ने बताया था कि उनके पास 25 मिलियन से ज्यादा जियोफोन यूजर्स हैं। रिलायंस जियो ने पिछले साल जियोफोन और इस साल QWERTY कीपैड के साथ जियोफोन 2 लॉन्च किया।

     

    इन दोनों ही फीचर फोन ने बाजार में तुफान ला दिया है। UNISOC का दावा है कि इन सस्ते फीचर फोन ने म्यूजिक और स्ट्रीमिंग सर्विस, व्हाट्सएप, यूट्यूब और Google जैसे ऐप्स के साथ कंपनी के बाजार हिस्सेदारी में 40 प्रतिशत की वृद्धि की है। बता दें, स्मार्टफोन सेगमेंट की तुलना में, भारत में फीचर फोन की बिक्री में कमी आई है। जो UNISOC के लिए चिंता का कारण है। इसी के चलते कंपनी लावा और माइक्रोमैक्स के साथ साझेदारी करके बाजार में वापसी करने की योजना बना रही है।

    लावा और माइक्रोमैक्स फोन की कीमत

    माइक्रोमैक्स और लावा स्मार्टफोन को UNISOC 9863 द्वारा संचालित किया जाता है। जो काफी बजट फ्रेंडली स्मार्टफोन बनाते हैं। UNISOC अपनी वापसी 6,999 रुपये के सेगमेंट फोन के साथ करेगा। हालांकि अन्य लोकप्रिय स्मार्टफोन निर्माता कंपनी जैसे रीयलमे, शाओमी, ऑनर UNISOC को टक्कर दे सकते हैं क्योंकि इन कंपनियों ने इसी रेंज में Redmi 5A, Redmi 6A और Realme C1 जैसे स्मार्टफोन को लॉन्च किया है।

    English summary
    Both Jio Phones have been powered by UNISOC chipsets. This is a Chinese smartphone chipset manufacturer. Which was previously known as the spreadsheet. After launching Geophone and Geophone 2 phones, both Geo and UNISOC are in talks with Micromax and Lava, India's flagship smartphone manufacturer, to bring a cheap 4G smartphone in India.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more