फ्री जियोफोन या इंटेक्स का 700 रु का फोन, जानें किसमें है फायदा

Written By:

रिलायंस जियो के फीचर फोन जियोफोन को लेकर जहां यूज़र्स खुश और उत्सुक हैं, वहीं प्रतियोगी कंपनियां अपनी प्लानिंग और जवाबी पारी में मसरूफ है। जियोफोन को टक्कर देने के लिए इंटेक्स ने अपना 4जी VoLTE फीचर फोन भारत में लॉन्च कर दिया है। इस फोन की कीमत कंपनी ने 700 रुपए रखी है।

Motorola मोटो G5S और G5S plus लॉन्च, कैमरा है इनकी खासियत

फ्री जियोफोन या इंटेक्स का 700 रु का फोन, जानें किसमें है फायदा

इंटेक्स ने जो फोन लॉन्च किया है उसका नाम टर्बो+4जी है। यह 4जी VoLTE वाला पहला सबसे सस्ता फीचर फोन है। इस फोन की सेल दिवाली तक शुरू होगी। बता दें कि अभी रिलायंस जियो का जियोफोन भी मार्केट में उपलब्ध नहीं हुआ है। यह फोन फिजिकली मार्केट में सितंबर से उपलब्ध होगा।

आज 999 रुपए में खरीदें श्याओमी रेड्मी नोट 4

इंटेक्स के अलावा हाल ही में आईडिया भी अपने फीचर फोन को लेकर चर्चाओं में थी। आईडिया के फोन के बारे में कहा जा रहा है कि यह 2500 रुपए तक की कीमत में लॉन्च हो सकता है, यह 4जी फीचर फोन होगा।
चलिए अब जानते हैं कौन सा फोन हो सकता है आपके लिए बेहतर।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

स्पेसिफिकेशन

इंटेक्स टर्बो 4G+ स्मार्ट फीचर फोन और जियोफोन दोनों में ही 2.4 इंच का क्यूवीजीए डिस्प्ले दिया गया है। दोनों फीचर फोन में वीजीए फ्रंट कैमरा है जबकि जियोफोन का रियर कैमरा 2 मेगापिक्सल का है और इंटेक्स टर्बो 4G+ का कैमरा 4 मेगापिक्सल का है। दोनों फोन में 2000mAh की बैटरी दी गई है।

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर

जियोफोन और इंटेक्स टर्बो 4G+ में काफी समानताएं हैं, दोनों में KaiOS दिया गया है। इन दोनों फोन की रैम 512एमबी की है जबकि इंटरनल स्टोरेज 4जीबी की है। जियोफोन में मैमोरी एक्सपैंड 128जीबी तक है लेकिन इंटेक्स में यह केवल 32जीबी तक है।

एक्स्ट्रा फीचर्स

रिलायंस जियो फोन इन बेसिक फीचर्स के अलावा कुछ खास फीचर के साथ भी आता है, जिसमें वॉयस कमांड, इमरजेंसी एसओएस मैसेज शामिल हैं। इंटेक्स में आपको यह सब नहीं मिलेगा। जियो की ऐप्स भी रिलायंस जियो के जियोफोन में दी जाएंगी। यानी कि फुल एंटरटेनमेंट।

4जी VoLTE

जो सबसे खास फीचर है और जो दोनों फोन में मौजूद है वो है 4जी VoLTE सपोर्ट का। इन दिनों भारत में 4जी की ही अधिक डिमांड है। 4जी VoLTE नेटवर्क भारत में फिलहाल केवल जियो देता हैं, अगले साल एयरटेल भी इस सेवा को पेश करेगी। यह दोनों ही फोन इस सपोर्ट के साथ आते हैं।

कीमत

कीमत की बात करें तो एक ओर जहां जियोफोन फ्री है, वहीं इंटेक्स के टर्बो +4G की कई मॉडल्स में उपलब्ध हैं, जिनकी कीमत 700 रु से 1500 रुपए तक है। कई रिपोर्ट्स में इंटेक्स के फोन की कीमत 1999 रुपए तक भी बताई जा रही है। हालांकि जियोफोन के लिए भी आपको 1500 रुपए जमा कराने होते हैं, जो कि तीन साल बाद आपको फोन वापस करने पर मिलेंगे। आप जरुरत के हिसाब से अपने लिए बेहतर ऑप्शन चुन सकते हैं। यदि आपको केवल जियो के ऑफर का लाभ लेना है तो आप जियो का सिम इंटेक्स फोन में भी इस्तेमाल कर सकते हैं, इसमें आपको कोई सिक्योरिटी का झंझट नहीं है। वहीं यदि आप जियोफोन लेते हैं तो आप स्पेशल रिचार्ज ऑफर, जियो ऐप्स जैसे ऑप्शन का भी लाभ ले सकते हैं।

इंटेक्स का प्लस पॉइंट

इंटेक्स के फोन के साथ सबसे बड़ी खासियत है कि यह फोन आपको किसी नेटवर्क के साथ रोकता नहीं है। यानी कि आप इस फोन में कोई भी सिम का प्रयोग कर सकते हैं, चाहे जियो हो, एयरटेल या कोई अन्य, इससे यूज़र्स को अधिक ऑप्शन मिलते हैं। जबकि जियोफोन के साथ ऐसा नहीं है। आप जियोफोन में केवल जियो का ही इस्तेमाल कर सकते हैं।

जियो का फायदा

जियोफोन फ्री है, यह इस फोन की सबसे बड़ी खासियत है। यानी कि इसके बाद आपको जो भी सुविधाएं मिलती हैं वो एक्स्ट्रा बेनिफिट है। आपको किसी भी चीज के लिए रुपए नहीं देने हैं, ऊपर से वॉयस कॉलिंग हमेशा के लिए फ्री है। साथ ही आप जियो की ऐप्स का इस्तेमाल कर कई अन्य लाभ भी उठा सकते हैं। जियो की टीवी केबल के जरिए यूज़र्स ऐप का सारा कंटेंट टीवी में देख सकते हैं।
रिलायंस जियो के सस्ते टैरिफ का लाभ यूज़र्स को हमेशा मिलेगा। जियो के टैरिफ अन्य टेलिकॉम के मुकाबले काफी कम हैं, यानी कि यह लाभ यूज़र्स को हमेशा है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज



English summary
Jiophone or intex turbo+4g feature phone, which is best? All you need to know, in Hindi.
Please Wait while comments are loading...
छोटे से देश ने चीन को मारा 'तमाचा', बोला हम तुम्हारे गुलाम नहीं
छोटे से देश ने चीन को मारा 'तमाचा', बोला हम तुम्हारे गुलाम नहीं
मुजफ्फरनगर रेल हादसा LIVE: 23 की मौत, 65 गंभीर रूप से घायल
मुजफ्फरनगर रेल हादसा LIVE: 23 की मौत, 65 गंभीर रूप से घायल
Opinion Poll

Social Counting