इस साल की आखिरी सूर्य ग्रहण हुआ शुरू, जानें सारी डिटेल

|

साल 2019 खत्म होने वाला है और इस साल के आखिरी सूर्य ग्रहण की शुरूआत हो चुकी है। हालांकि ये पूर्ण सूर्य ग्रहण यानि पूर्णग्रास नहीं बल्कि खंडग्रास है बल्कि इस बार सूर्य का बाहरी हिस्सा प्रकाशित होगा। दुनिया के कई भागों में सूर्य ग्रहण का अद्धभुत नज़ारा देखने को मिलेगा। भारत में सुबह 8 बजकर 4 मिनट से ग्रहण की शुरूआत हो चुकी है। इस सूर्य ग्रहण को 'रिंग ऑफ फायर' का नाम दिया गया है।

इस साल की आखिरी सूर्य ग्रहण हुआ शुरू, जानें सारी डिटेल

 

कहां-कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण?

बता दें कि साल का आखिरी ग्रहण धनु राशि और मूल नक्षत्र में लगा है और सूर्य के साथ केतु, बृहस्पति और चंद्रमा आदि ग्रह होने से ज्योतिष में इस कल्याणकारी योग का विशेष लाभ भी मिलेगा। बता दें कि आज का सूर्य ग्रहण भारत, ऑस्ट्रेलिया, फिलिपिंस, साउदी अरब और सिंगापुर जैसे जगहों में देखा जाएगा। याद दिला दें कि आंशिक सूर्य ग्रहण इससे पहले साल 2019 के शुरूआत छह जनवरी और दो जुलाई को लगा था।

यह भी पढ़ें:- Jio का Happy New Offer, एक साल तक फोन के साथ सबकुछ फ्री

सूर्य का वलयाकार ग्रहण इक्वेटर के पास नॉर्थन हेमिस्फीयर में एक छोटे गलियारे में दिखाई देगा। वलयाकार पथ सऊदी अरब, कतर, ओमान, संयुक्त अरब अमीरात, भारत, श्रीलंका के उत्तरी भाग, मलेशिया, सिंगापुर, सुमात्रा और बोर्निओ से होकर गुजरेगा। सूर्य ग्रहण की अवधि 5 घंटे 36 मिनट तक की होगी।

वलयाकार सूर्य ग्रहण क्या है?

जब सूर्य की रौशनी धरती तक नहीं पहुंच पाती है तो सूर्य ग्रहण लगता है और ऐसा तब होता है जब सूर्य और धरती के बीच में चंद्रमा आ जाता है। लेकिन वलयाकार सूर्य ग्रहण की स्थिति में चंद्रमा सामान्य की तुलना में धरती से दूर हो जाता है। चंद्रमा का आकार इतना नहीं दिखाई देता कि वो सूर्य को पूरी तरह से ढक सके। वलयाकार सूर्यग्रहण में चांद के बाहरी किनारे पर सूर्य रिंग यानी अंगूठी की तरह काफ़ी चमकदार नजर आता है। इसीलिए इस बार सूर्य ग्रहण को 'रिंग ऑफ फायर' नाम दिया गया है।

 

यह भी पढ़ें:- Airtel WiFi कॉलिंग की सुविधा अब इन सर्कल्स और स्मार्टफोन में उपलब्ध

आपको बता दें कि भारत में सूर्योदय के बाद वलयाकार सूर्य ग्रहण भारत के दक्षिणी भाग में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में देखा गया। देश के दूसरे हिस्सों में ये आंशिक ग्रहण के रूप में दिखाई देगा। सूर्य ग्रहण की वलयाकार अवस्था दोपहर 12 बजकर 29 मिनट पर खत्म होगी जबकि ग्रहण की आंशिक अवस्था दोपहर एक बजकर 36 मिनट पर खत्म होगी।

कब है अगला सूर्य ग्रहण?

बता दें अब अगला सूर्य ग्रहण भारत में 21 जून, 2020 को दिखाई देगा। ये भी एक वलयाकार सूर्य ग्रहण ही होगा।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
The year 2019 is about to end and the last solar eclipse of this year has started. However, this is not a full solar eclipse i.e. full moon but Khandgrass, but this time the outer part of the sun will be illuminated. There will be amazing views of solar eclipse in many parts of the world. The eclipse has started in India at 8.45 am. This solar eclipse has been named the 'Ring of Fire'.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more