Jio के नाम पर लोगों को लूटने वाले लुटेरों की कहानी, सुनिए हमारी जुबानी

|

जियो कंपनी ने पिछले दो सालों में भारतीय टेलिकॉम का काया पलट कर दिया है। कॉलिंग और इंटरनेट रेट इतने सस्ते हो गए हैं कि देश के कोने-कोने तक हर व्यक्ति इंटरनेट का यूज़ कर पा रहा है। जियो कंपनी ने हर चीज को इतना सस्ता कर दिया है कि लोगों को कंपनी पर काफी भरोसा हो गया है। इस वजह से जियो कंपनी काफी तेजी अपने यूजर्स की संख्या बढ़ाने में कामयाब भी हो रही है।

Jio के नाम पर लोगों को लूटने वाले लुटेरों की कहानी, सुनिए हमारी जुबानी

 

ऐसे में कुछ लोग जियो के प्रति लोगों के इस अंधे भरोसे का फायदा उठाने में भी लगे हुए हैं और कंपनी को इसका कुछ पता नहीं है। यहां तक कि पता होने के बाद कंपनी कोई एक्शन लेने को राजी नहीं है। दरअसल जियो कंपनी के नाम पर हमारे देश में कुछ लोगों की टीम एक बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा चला रही है। इस फर्जीवाड़े में लोगों को जियो कंपनी का टॉवर लगवाने का ऑफर दिया जाता है। जिसके बदले लोगों से बड़ी राशि में पैसे ठगे जा रहे हैं। ये कारनामा पूरे देश में चल रहा है। इस पूरे फर्जीवाड़े को हम एक उदाहरण और तमाम सबूतों के साथ आपको बताते हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज

फ़र्जी वेबसाइट्स

दरअसल, जियो कंपनी के नाम पर कुछ लोग फर्जी वेबसाइट चला रहे हैं। जिसके जरिए जियो के टॉवर लगाने का दावा किया जाता है। जियो की ये फर्जी वेबसाइट गूगल लिस्ट में टॉप पर रहती हैं। उन पर बकायदा ऐड्स भी आते हैं। इस वजह से आम लोग उन वेबसाइट्स पर आसानी से विश्वास भी कर लेते हैं।

इन वेबसाइट्स में

http://www.towerjio.com/ , http://jio4gtoweronline.com/enquiry.html, http://jiotowerindia.net.in/, http://www.towersbhartinstall.net.in/

जैसी कई वेबसाइट्स शामिल है। नीचे की पिक्चर में आप देख सकते हैं कि ये सभी साइट्स गूगल के टॉप पर आती हैं और इनपर पेड ऐड्स भी आते हैं।

 

लोगों को ठगने का तरीका
 

लोगों को ठगने का तरीका

इन वेबसाइट्स पर जियो कंपनी का टॉवर लगवाने की सभी डीटेल्स, पैकेज, ग्रामिण और शहरी पैकेज की सभी जानकारी मौजूद रहती है। इस वेबसाइट के जरिए अपने खाली जमीन या घर की छत पर टॉवर लगवाने के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने का ऑप्शन आता है। लोग जब इसके जरिए ऑनलाइन अप्लाई करते हैं तो उनके पास एक फर्जी एक्जूकिटिव का कॉल आते हैं जो धीरे-धीरे लोगों को अपने ठगी के जाल में फंसा लेते हैं। इसी जाल का एक उदाहरण हम आपको यहां दिखाते हैं कि कैसे ये फर्जी लोग कंपनी के नाम पर लोगों को भरोजा जीतते हैं और फिर उन्हें ठगते हैं।

झारखंड के एक व्यक्ति अमर (बदला हुआ नाम) ने किसी वेबसाइट पर एक ख़बर पढ़ी और जियो टॉवर लगवाने के लिए http://www.towerjio.com/ के जरिए ऑनलाइन अप्लाई किया। इस साइट पर जाने के बाद एक फॉर्म भरना होता है। उसे भरने और अपनी जमीन की डीटेल डालने के बाद जियो कंपनी के नाम पर एक फर्जी अधिकारी का फोन आया। इस अधिकारी ने अपना नाम राजेश शर्मा बताया। इस फर्जी जियो अधिकारी का फोन +919062428135 इस नंबर से आया और उसने बड़ी ही होशियारी से सारे फ्रॉड प्रोसेस को बताया।

फेक एप्रवूल लेटर

राजेश शर्मा नाम के इस फर्जी अधिकारी ने बताया कि ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद जियो कंपनी के अधिकारी सैटेलाइट उपकरणों के द्वारा उनके द्वारा दी गई लोकेशन की जांच करेंगे और फिर उन्हें फाइनल एप्रूवल देंगें। इसके करीब 24 से 48 घंटों के बाद info@towerjio.com से एक कंफर्मेशन ई-मेल आया जिसमें जमीन के चयन होने की बात लिखी हुई थी। इसके बाद इसी मेल आईडी से कुछ अन्य डॉक्यूमेंट भी भेजे गए जिन्हें देखकर कोई भी व्यक्ति धोखा खा सकता है क्योंकि उन सभी पेपर्स और डॉक्यूमेंट्स को जियो के नोटपैड पर भेजा गया था। सभी डॉक्यूमेंट्स पर जियो के लोगो के साथ कंपनी का तमाम ऐसी फर्जी चीजें थीं जिसे देखकर विश्वास किया जा सकता है। इन सभी डॉक्यूमेंट्स को हम यहां अटैच कर रहे हैं।

जियो के नाम का फेक बैंक अकाउंट्स

इन सभी प्रक्रिया के होने के बाद उन फर्जी लोगों ने डॉक्यूमेंट और झूठे नियमों का हवाला देते हुए कहा कि "आपको 14,500 रुपए जमा कराने होंगे जिसके बाद आपके पास एग्रीमेंट पेपर्स जाएंगे, उस प्रक्रिया को पूरा करने के बाद आपके अकाउंट में 15 साल का एडवांस 15 लाख रुपए रेंट क्रेडिट कर दिया जाएगा और उसके बाद हर महीने करीब 30,000 रुपए का मासिक वेतन टॉवर के चौकीदार को दिया जाएगा। जियो के फर्जी अधिकारी ने कंपनी के कथित आधिकारिक ई-मेल आईडी से कंपनी के नाम का एक फर्जी अकाउंट डीटेल भेजा। हम उस अकाउंट डीटेल्स को यहां मेंशन कर रहे हैं।

Reliance Jio Infocomm Limited
Accont No:- 622402010005150
IFSC :- UBIN0546097
Branch :- Salt Lake City
(Union Bank)

फेक एग्रीमेंट पेपर्स

इतनी प्रक्रिया और बातचीत के बाद अमर ने इस अकाउंट में 14,500 रुपए जमा कर दिए। इसके बाद जियो के नाम पर फर्जीवाड़ा चलाने वाले लोगों ने एक एग्रीमेंट पेपर की एक पीडीएफ फाइल भेजी जिसे देखकर कोई भी आम आदमी उसे जियो का असली एग्रीमेंट डॉक्यूमेंट समझ सकता है। इसके करीब 24 घंटे बाद किसी अन्य फर्जी अधिकारी का फोन व्यक्ति को आया और उसने कहा कि एग्रीमेंट पेपर के मुताबिक आपको और 50,000 रुपए की राशि जमा करानी होगी, जिसके आधे घंटे के अंदर आपको एडवांस रेंट भेज दिया जाएगा और 24 से 72 घंटे में आपके जमीन पर टॉवर लग जाएगा।

अमर ने 50,000 रुपए का विरोध किया और कहा कि इनती रुपए हम जमा नहीं करा सकते, आप हमें 14,500 रुपए वापिस कर दें, हमें टॉवर नहीं लगवाना है। इसपर फर्जी व्यक्ति ने पहले तो कहा कि नहीं आपको कराना होगा और व्यक्ति को मनाने की कोशिश की लेकिन व्यक्ति नहीं माना।

जियो के नाम पर फेक इनवॉयस

इस बातचीत के 3-4 दिन बाद +918013215057 नंबर से अभिषेक पांडे नाम के एक अन्य फर्जी जियो अधिकारी का कोलकाता से फोन आया। अभिषेक पांडे ने भी अमर से इन्हीं प्रक्रियाओं के बारे में पूछा और कहा कि आपको 50,000 रुपए जमा कराने की जरूरत नहीं है आर सिर्फ 19,200 रुपए जमा करा देंगे तो आपका काम फाइनल हो जाएगा। अमर इस पर भी नहीं माना लेकिन अभिषेक ने फिर जियो कंपनी के फर्जी डॉक्यूमेंट्स को भेजजर अमर को भरोसा दिलाया। अमर ने बात मान ली और 19,200 रुपए भेजने के लिए तैयार हो गया।

इस बार अभिषेक पांडे ने जियो कंपनी का ही दूसरा फर्जी अकाउंट डीटेल्स भेजा और उसमें पैसे ट्रांसफर करने के लिए कहा।

A/C NAME :- RELIANCE JIO INFOCOMM LTD.
BANK NAME ;- UNION BANK OF INDIA
A/C :- 633202010005990
IFSC :- UBIN0563323
please pay NEFT,RTGS , NET BANKING ONLINE method only.

इस अकाउंट में दूसरी बार पैसे भेजने के कुछ दिनों बाद अमर को पता चल गया कि उसे ठगा जा रहा है। अमर ने दोबारा फर्जी लोगों से बात की। उन लोगों ने कहा कि वो 7 दिन के अंदर में टॉवर लगाने के लिए टीम भेजेंगे लेकिन कोई टीम नहीं आई।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज

पूरे देश में ऐसी धोखाधड़ी जारी 

इसी तरह से भोपाल मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल समेत पूरे भारत में जियो के ये फर्जी अधिकारी जियो कंपनी के नाम पर करोड़ों को फर्जी वाड़ा चला रहे है। ये लोग काफी वक्त से पूरे देश के लोगों को ठग रहे हैं लेकिन जियो कंपनी इस पार कोई एक्शन नहीं ले रही है।

हिंदी गिज़बोट ने जियो के एक फर्जी अधिकारी से उसके क्लाइंट के रूप में बात की, जिसमें वो अपनी धोखाधड़ी की प्रक्रिया को समझा रहा है। हम उस बातचीत को यहां अटैच कर रहे हैं आप इसे सुनिए और समझिए:-

हमने अमर की मदद और अपनी छानबीन के लिए जियो के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया। जियो कस्टमर केयर से इस बारे में बात की। जियो के कस्टमर केयर अधिकारी ने हमें बताया कि जियो कंपनी टॉवर लगाने का ऐसा कोई काम नहीं कर रही यह सब फर्जीवाड़ा है। इस पर हमनें जियो अधिकारियों से इस मामले में आगे की कार्यवाई करने को कहा तो उन्होंने कहा कि हम जल्द ही इस पर एक्शन लेकर सूचना देंगे, लेकिन दो महीने से ज्यादा बीत जाने के बाद भी जियो कंपनी की तरफ से अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया गया है या कोई जवाब भी नहीं आया है।

हमने एक बार फिर ट्विटर के जरिए जियो कंपनी को गूगल पर आने वाले टॉवर इंस्टॉलेशन के वेबसाइट का लिंक भेजकर पूछा कि क्या ये वेबसाइट असली हैं या इसके जरिए फ्रॉजबाजी हो रही हैं..? इसपर @JioCare ट्वीटर हैंडल से जवाब आया कि, "इस चिंता को उजागर करने के लिए धन्यवाद। यह एक वैध वेबसाइट नहीं है। इसलिए, हम आपसे भविष्य में किसी भी तरह की धोखाधड़ी की घटनाओं से बचने के लिए ऐसी कॉल / मेल को नजरअंदाज करने का अनुरोध करते हैं." 

आपको बता दें कि ट्वीटर के जरिए ही कई लोगों ने जियो से इन फ़र्जी वेबसाइट के बारे में शिकायतें की हैं लेकिन अभी भी अगर आप गूगल पर Jio tower सर्च करेंगे तो ऐसी कई फर्जी वेबसाइट आपको मिल जाएगी, जो रोज लोगों को चूना लगा रहे हैं। दूसरी तरफ जियो कंपनी सिर्फ आश्वासन देने के अलावा कुछ नहीं कर रही है। 

ऐसे में सवाल उठता है कि जियो कंपनी के भरोसे का फायदा उठाकर ऐसे फ्रॉड लोग देश के लाखों लोगों को करोड़ों रुपया ठग रहे हैं और जियो कंपनी इस पर कुछ एक्शन नहीं ले रही है। जियो कंपनी के नाम पर गूगल पर पेड वेबसाइट रन कर रही है। जियो कंपनी के नाम पर फर्जी बैंक अकाउंट्स मौजूद हैं और लोगों को ठगा जा रहा है। क्या इसपर जियो कंपनी कोई एक्शन लेगी या नहीं...?

English summary
Jio Company has overturned the function of Indian Telecom in the last two years. In this way some people are also engaged in taking advantage of this blind trust of people against Jio and the company does not know anything about it. Even after getting to know, the company is not willing to take any action. In the name of Jio, few frauds are cheating lakhs of rupees from people.

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more