'आकाश' को लेने के लिए पहले ही लग गई 3 लाख लोगों की लाइन

Posted By:

'आकाश' को लेने के लिए पहले ही लग गई 3 लाख लोगों की लाइन

पीसी जगत के इतिहास में भारत में लांच किया गया अब तक का सबसे सस्‍ता टैबलेट आकास एक मील का पत्‍थर बन चुका है। रीटेल स्‍टोर में आने से पहले ही दुनिया के इस सबसे सस्‍ते टैबलेट आकाश की 3 लाख से अधिक की बुकिंग पहले ही हो चुकी है। उम्‍मीद की जा रही है कि इस साल कुल 2,50,000 टैबलेट भारत में बिक सकते हैं। इस खास डिजिटल डिवाइस पहले ऑटो जगत में टाटा नैनो ने इसी तरह से हलचल मचा दी थी।

आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नया गैजेट का अगले महिने तक 2,999 रूपए की आकर्षक कीमत में उपलब्‍ध हो जाएगा। आकाश टैबलेट का एडवांस में बुक कराने के लिए कोई भी एक्‍ट्रा चार्ज नहीं देना होगा। तकनीकी रूप से आकाश टैबलेट में फास्‍ट डाउनलोडिंग स्‍पीड दी गई है जो कम वक्‍त में ज्‍यादा एमबी डेटा डाउनलोड हो जाएगा। आकाश टैबलेट के बाद जल्‍द इसका नया वर्जन भी लांच किया जाएगा जिसमें टच स्क्रीन के साथ अपग्रेड प्रोसेसर इनबिल्‍ड होगा। इसके अलावा आकाश टैब के साथ एक पोर्टेल की बोड देने की योजना भी बनाई जा रही है जिसके तहत टैबलेट को मिनी कंप्‍यूटर में बदला जा सकता है।

खबरे मिल रहीं है आकाश टैबलेट की तरह भारती ग्रुप और बीटल भी एक सस्‍ता टैबलेट लांच करने की योजना बनाने में लगी हुई है। केपीएमजी के मुताबिक सैमसंग की टैबलेट बाजार में 80 फीसदी हिस्सेदारी है। एप्पल के पास बाजार का 5 फीसदी हिस्सा है। आकाश टैबलेट के लांच होने के बाद बाजार में मौजूद अन्‍य कंपनिया भी सस्‍ते टैबलेट लांच करने की तैयारी में जुइ गई है जिससे जल्‍द बाजार में कई सस्‍ते टैब लांच हो सकते हैं।

Please Wait while comments are loading...
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
Opinion Poll

Social Counting