खत्‍म हो जाएगा idea का वजूद, ये कंपनी होगी नई मालिक

Written By:

भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री इस समय काफी उथल-पुथल वाले दौर से गुजर रही है। रिलायंस जियो के आने के बाद कई टेलीकॉम कंपनियों के बंद होने और कई कंपनियों के विलय होने की खबर तो आप पहले भी सुन चुके होंगे। अब इससे जुड़ी एक और बड़ी खबर सामने आई है। देश की दो बड़ी टेलीकॉम कंपनी आइडिया सेल्युलर और वोडाफोन विलय करने जा रही हैं।

इस वियल के बाद दोनों एक ही कंपनी बन जाएगीं और इस मर्ज के बाद भी इंडस्ट्री में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं। सोमवार को आइडिया सेल्यूलर ने वोडाफोन इंडिया और वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज के साथ मिलकर देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर कंपनी बनने का ऐलान कर दिया है।

खत्‍म हो जाएगा idea का वजूद, ये कंपनी होगी नई मालिक

39.40 करोड़ ग्राहक होंगे नए ग्राहक-

विलय के बाद बनी कंपनी के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला होंगे और इस कंपनी के पास करीब 39.40 करोड़ ग्राहक होंगे। आइडिया और वोडाफोन के इस विलय का मुख्य कारण रिलायंस जियो को माना जा रहा है, जिसमें इंडस्ट्री में आते ही शुरुआत के 6 महीने में 10 करोड़ ग्राहक बना लिए थे। आइडिया सेल्युलर निदेशक मंडल की बैठक विलय निर्णय लिया गया।

आइडिया ने आधिकारिक जानकारी में कहा, "कंपनी ने वोडफोन इंडिया लिमिटेड (वीआईएल) और इसकी पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज लिमिटेड (वीएमएसएल) के साथ एकीकरण को मंजूरी दे दी है।" बता दें कि दोनों कंपनियों में विलय को लेकर पिछले 8 महीनों से बातचीत जारी थी, जिसके बाद आखिरकार सोमवार को विलय के इस फैसले को स्वीकार कर लिया गया।

iVoomi i1 firt impression (Hindi)

वोडाफोन में विलय होगी आइडिया- 

सोमवार को इस विलय के बाद वोडाफोन कंबाइन्ड इनटिटी का 45.1% अपने पास रखेगी वहीं, आइडिया के पास इसकी 26 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। इसके लिए कंपनी को करीब 3,874 करोड़ रुपए का भुगतान करना होगा। इसके अलावा 28.9 परसेंट पर दूसरे शेयर होल्डर्स का अधिकार होगा।

नई कंपनी पूरे देश में फैलाएगी 3जी और 4जी नेटवर्क

दोनों कंपनियों ने कहा कि इस विलय के बाद 3जी और 4जी नेटवर्क पूरे देश में फैलाएगी और आने वाले समय में हर तीन में से एक ग्राहक इस कंपनी का उपभोक्ता होगा। कंपनी ने ये भी जानकारी दी कि इस विलय को पूरा होने में करीब 2 साल का वक्त लगेगा।

उम्मीद की जा रही है कि इस विलय के बाद बनी कंपनी यूजर्स के लिए आकर्षक और किफायती प्लान पेश करेगी। इसके साथ ही जियो को एक बार फिर कड़ी प्रतिस्पर्था मिलेगी, क्योंकि वोडाफोन आइडिया के नेटवर्क जियो से ज्यादा हैं।

English summary
NCLT approves popular telecom service provider company Idea and Vodafone merger.
Please Wait while comments are loading...
पटरी से उतरी गोंडवाना एक्सप्रेस, कोई हताहत नहीं
पटरी से उतरी गोंडवाना एक्सप्रेस, कोई हताहत नहीं
दिल्ली के  बवाना में आग लगने के बाद भाजपा-आप के बीच राजनीतिक जंग
दिल्ली के बवाना में आग लगने के बाद भाजपा-आप के बीच राजनीतिक जंग
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot