नेपाल में ड्रोन का प्रयोग प्रतिबंधित

Written By:

नेपाल सरकार ने 25 अप्रैल को आए विनाशकारी भूकंप के बाद देश में ड्रोन के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार को ड्रोन से संवेदनशील जानकारियां लीक होने और बहुमूल्य विरासती इमारतों की अवैध रूप से तस्वीरें लिए जाने की आशंका है। नेपाल नागरिक उड्डयन प्राधिकरण द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि नेपाल में ड्रोन उड़ाने से पहले अनुमति लेनी होगी।

पढ़ें: कहीं आपके होटल रूम में कैमरा तो नहीं लगा

नेपाल में 25 अप्रैल को आए विनाशकारी भूकंप के बाद से कुछ विदेशी मीडिया और अन्य सहायता एजेंसियों ने भूकंप से हुई तबाही को दिखाने और सूचना प्रसारित करने के लिए ड्रोन का प्रयोग किया था।

नेपाल में ड्रोन का प्रयोग प्रतिबंधित

पढ़ें: शादी को बर्बादी में न बदल दें फेसबुक

नागरिक उड्डयन एजेंसी ने दावा किया है कि कुछ एजेंसियों ने ड्रोन का प्रयोग नेपाल की बहुमूल्य विरासतों की तस्वीरें और वीडियो लेने के लिए किया है, जिनका बाद में दुरुपयोग हो सकता है।

प्राधिकरण ने कहा कि नेपाल में शोध में दिलचस्पी रखने वाले और ड्रोन की सहायता की जरूरत रखने वालों को पहले नागरिक उड्डयन प्राधिकरण की अनुमति लेने की आवश्यकता होगी, लेकिन उन्हें प्रतिबंधित क्षेत्रों में ड्रोन उड़ाने की अनुमति नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि बिना अनुमति ड्रोन उड़ाने पर स्थानीय नागरिक उड्डयन कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप की रिएक्टर पैमाने पर तीव्रता 7.9 थी, जिसमें 7,500 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं।

English summary
The Nepalese government has cracked down on unmanned aerial vehicles following the magnitude 7.8 that hit the country in late April.
Please Wait while comments are loading...
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting