आरोग्य सेतू ऐप में कमी निकालने वाले को मिलेगा एक लाख रुपए का इनाम

|

Aarogya Setu App को लॉन्च किए हुए अब 1.5 महीने से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। इस ऐप को अभी तक 10 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड कर लिया है। हालांकि कुछ बुद्धिजीवि लोगों ने इस ऐप में कुछ खामियां होने की बात कही थी। अब उन्हीं लोगों की बुद्धिमता को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने शोधकर्ताओं को ऐप में खामी निकानले का न्यौता दिया है।

आरोग्य सेतू ऐप में कमी निकालने वाले को मिलेगा एक लाख रुपए का इनाम

 

एक लाख का इनाम

इसके लिए राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने एक नए प्रोग्राम की शुरुआत भी की है। यह एक बग बाउंटी प्रोग्राम है। इस प्रोग्राम के तहत इस ऐप यानि आरोग्य सेतू ऐप में सुरक्षा की कमजोरियों या फिर किसी भी कमियों को निकालने वाले व्यक्तियों को 1 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। इसके अलावा आरोग्य सेतू में मिलने वाली उस कमी को सुधारने के लिए भी 1 लाख रुपए का अतिरिक्त इनाम दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:- Redmi 10X 4G: काफी कम कीमत में बेहतरीन फीचर्स वाला स्मार्टफोन

आपको बता दें कि इस बग बाउंटी प्रोग्राम को MyGov की टीम होस्ट कर रही है। इस प्रोग्राम की वजह से सिक्योरिटी रिसर्चरों को सरकार की तरफ से एक लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा। आरोग्य सेतू ऐप के ऊपर कई रिसर्चर द्वारा सवाल उठाए जाने के बाद अब इस ऐप को बनाने वाली सरकारी संस्था नीति आयोग ने आरोग्य सेतू के कोड को ओपन सोर्स कर दिया है। ओपन सोर्स करते हुए नीति आयोग ने कहा कि फिलहाल सिर्फ एंड्रॉयड वर्ज़न का ही सोर्स कोड ओपन किया गया है। आने वाले दिनों में आरोग्य सेतू ऐप के iOS और KaiOS वर्ज़न के सोर्स कोड को भी ओपन कर दिया जाएगा।

अभी तक लाखों लोगों को सीधा फायदा

आरोग्य सेतू के एंड्रॉयड वर्ज़न के सोर्स कोड को 26 मई की मध्यरात्रि GitHub पर उपलब्ध करा दिया गया है। इसके बाद अब सरकार की तरफ से इस ऐप में खामी निकालने का चैलेंज लोगों को दिया गया है। आपको बता दें कि फिलहाल कोरोना वायरस को ट्रैक करने वाले इस ऐप में 11.50 करोड़ यूज़र्स रजिस्टर्ड हैं। एक आंकड़े के अनुसार अभी तक इस ऐप की वजह से 1,40,000 से ज्यादा लोगों को सीधा फायदा हुआ है। इस ऐप के बारे में हम आपको पहले भी बता चुके हैं। अगर आप आरोग्य सेतू ऐप के बारे में विस्तार से जानने चाहते हैं तो इस लिंक को क्लिक करके जान सकते हैं।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
More than 1.5 months have passed since the Aarogya Setu App was launched. So far, more than 100 million people have downloaded this app. However some intellectuals had said that there are some flaws in this app. Now keeping in mind the intelligence of the same people, the National Informatics Center has invited researchers to find the drawback in the app.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
X