बटन दबाते ही मिलेगा कंडोम नहीं तो पैसे वापस

Posted By:

आपको अब कंडोम खरीदने के लिए किसी दुकान पर जाने या शर्मिदगी महसूस करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अब आप राह चलते-फिरते कंडोम प्राप्त कर सकते हैं। यहां तक कि आप विश्व स्तरीय दिल्ली मेट्रो में सफर करने के दौरान भी कंडोम खरीद सकते हैं, वह भी किसी से कहे बगैर। आपको दिल्ली मेट्रो के स्टेशनों पर लगी वेंडिंग मशीन में सिक्के या रुपये डालने होंगे और पलक झपकते ही आपके सामने कंडोम, नैपकिन एवं अनेक तरह के स्वास्थ्य संबंधी उत्पाद हाजिर हो जाएंगे।

दुनिया के सबसे बड़े गर्भनिरोधक उत्पादक एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड (एचएलएल) ने राष्ट्रीय राजधानी में अपने विशाल एवं फैले हुए स्टेशन परिसरों में पुरुष और महिला कंडोम उपलब्ध कराने के लिए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के साथ हाथ मिलाने का निर्णय किया है।

पढ़ें: क्‍या आप 15,000 रुपए का फोन लेने कर सोंच रहे हैं ?

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत कार्यरत मिनी रत्न पीएसयू केरल स्थित एचएलएल वेंडिंग मशीनों के जरिए कंडोम के अलावा सैनिटरी नैपकिन, खाई जाने वाली गर्भनिरोधक गोलियां, दरुगधनाशक (डियोडरेंट) और आयुर्वेदिक उत्पाद (जोड़ों का दर्द दूर करने वाली क्रीम और हेयर ऑयल) जैसे उत्पाद भी बेचेगा। दिल्ली मेट्रो भारत की पहली आधुनिक सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था है जो हर दिन करीब 2800 सेवाएं संचालित करती है और इससे रोजाना 24 लाख यात्री सफर करते हैं। एचएलएल की ऐसी पहल के प्रति यात्रियों का आकर्षित होना निश्चित है और इस पहल के जरिये उपभोक्ताओं को गर्भनिरोधक खरीदने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

बटन दबाते ही मिलेगा कंडोम नहीं तो पैसे वापस

पढ़ें: क्‍या आप 15,000 रुपए का फोन लेने कर सोंच रहे हैं ?

इन वेंडिंग मशीन का संचालन भारत की प्रमुख वेंडिंग कंपनी इंस्टागो की ओर से किया जा रहा है। ये वेंडिंग मशीन पूर्णत: स्वचालित बहुउद्देशीय वेंडिंग मशीन हैं, जिसमें भारतीय मुद्रा डालने के बाद एक बटन को दबाना होता है और इस मशीन से वांछित उत्पाद निकल आता है। इस मशीन की खासियत यह है कि यह सिक्के एवं नोट दोनों स्वीकार करती है। अगर ज्यादा पैसे या अधिक मूल्य के रुपये या सिक्के डाले गए तो यह मशीन बाकी पैसे वापस कर देती है।

इस मशीन में 'वेंड सेंसर' का इस्तेमाल किया गया है। अगर किसी कारण से उपभोक्ता को उत्पाद नहीं मिलता है तो उसे पैसे वापस मिल जाते हैं। एचएलएल ने कारपोरेट कार्यालयों, स्कूलों और कॉलेजों के वाश रूम तथा अन्य विभिन्न सार्वजनिक स्थलों पर लोगों को सैनिटरी नैपकिन एवं कंडोम उपलब्ध कराने के लिए दो वेंडिम मशीनें लगाने की भी योजना बनाई है।

Please Wait while comments are loading...
WhatsApp के जरिए बेची जा रही थीं लड़कियां, ऐसे हुआ खुलासा कि दंग रह गई पुलिस
WhatsApp के जरिए बेची जा रही थीं लड़कियां, ऐसे हुआ खुलासा कि दंग रह गई पुलिस
टॉइलट में जन्म के साथ ही फ्लश हो गई नवजात, 2 घंटे बाद सीवेज टैंक से जिंदा निकली
टॉइलट में जन्म के साथ ही फ्लश हो गई नवजात, 2 घंटे बाद सीवेज टैंक से जिंदा निकली
Opinion Poll

Social Counting