यौन शोषण के आरोप के बाद आईगेट ने सीईओ फणीस मूर्ति को निकाला

|

नैसडेक में लिस्टेड आईगेट कॉरपोरेशन ने अपने प्रेसिडेंट और चीफ एग्जिक्यूटिव फणीस मूर्ति को नौकरी से निकाल दिया है। कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने मूर्ति के अपनी सहयोगी कर्मचारी के साथ ताल्लुकात और यौन शोषण के दावों पर गौर करते हुए यह कड़ा फैसला किया। बोर्ड ने जरहार्ड वाटजिंगर को नया प्रेसिडेंट और सीईओ बनाया गया है।

 

अमेरिका की सॉफ्टवेयर सेवा कम्पनी, आईगेट कॉरपोरेशन ने अपने प्रेसिडेंट और चीफ एग्जिक्यूटिव फनीश मूर्ति को मंगलवार को बर्खास्त किया गया था। इसी तरह के आरोप में पहले भी फनीश मूर्ति फंस चुके है जब उन्हें देश की एक प्रमुख सूचना प्रौद्योगिकी कम्पनी इंफोसिस से भी बाहर निकलने के लिए बाध्य किया गया था। कम्पनी ने सुबह कैलीफोर्निया के फ्रेमोंट से एक बयान में कहा, अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी फणीश मूर्ति की सेवा समाप्त करने का फैसला किया गया है कम्पनी की निवेशक सम्बंध प्रबंधक 31 वर्षीया अमेरिकी नागरिक अरासेली रोइज ने लिखित रूप से यौन प्रताड़ना का आरोप लगाया था, जिसके बाद कम्पनी के बोर्ड ने इसकी जांच करवाई थी।

कम्पनी ने कहा कि उसने मूर्ति के खिलाफ यौन प्रताड़ना के आरोप की जांच करवाई थी और पाया कि मूर्ति ने कम्पनी की प्रताड़ना नीति का उल्लंघन नहीं किया है। कम्पनी ने कहा, इस सम्बंध की जानकारी देने में मूर्ति की असफलता आईगेट की नीति और मूर्ति की नियुक्ति कांट्रैक्ट का उल्लंघन है।" आईगेट के सह-संस्थापक और सह-अध्यक्ष सुनील वाधवानी ने एक बयान में कहा, पिछले 10 साल में आईगेट को सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र की एक प्रमुख कम्पनी बनाने में हम मूर्ति के योगदान को स्वीकार करते हैं।

 
यौन शोषण के आरोप के बाद आईगेट ने सीईओ फणीस मूर्ति को निकाला

उन्होंने कम्पनी के मूल्यों में सुधार के लिए कड़ी मेहनत की है। हम उनकी कोशिशों की सराहना करते हैं। लेकिन हमारी नीति के कारण हमने मूर्ति को पद से हटने के लिए कहा। बर्खास्तगी के कुछ घंटे के बाद अमेरिका से एक कंफरेंस कॉल में मूर्ति ने प्रताड़ना के आरोप से इंकार किया, लेकिन माना कि अधीनस्थ कर्मचारी के साथ उसका सम्बंध था। मूर्ति ने संवाददाताओं से कहा, "मेरा मानना है कि आरोप बेबुनियाद है।

लेकिन उसके साथ जो मेरे सम्बंध रहे हैं, उसके आधार पर कम्पनी ने मान लिया कि मैंने कम्पनी की नीति का उल्लंघन किया है और मुझे बर्खास्त कर दिया। मैं नहीं मानता कि मैंने कम्पनी के नियम तोड़े हैं।" एक दशक से कुछ अधिक समय पहले (2002) जब मूर्ति इंफोसिस के बोर्ड में निदेशक थे और वैश्विक बिक्री के प्रमुख थे, तब उनकी पूर्व सचिव बुल्गारिया-अमेरिकी नागरिक रेका मैक्सिमोविच ने उनके खिलाफ यौन सम्बंधी आरोप लगाया था।

इंफोसिस ने मैक्सिमोविच के साथ मूर्ति और कम्पनी के खिलाफ मुकदमा वापस लेने के लिए अदालत के बाहर 30 लाख डॉलर में मामले का निपटारा किया था। इसके बाद कम्पनी ने मूर्ति को बर्खास्त कर दिया था। आईगेट ने मूर्ति की जगह गेरहार्ड वाटजिंगर को तत्काल प्रभाव से अंतरिम अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया है।कम्पनी के एक अन्य सह-संस्थापक अशोक त्रिवेदी ने स्पष्ट किया कि मूर्ति की बर्खास्तगी का सम्बंध कम्पनी के संचालन और वित्तीय प्रदर्शन से नहीं है।

 
Best Mobiles in India

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X