केंद्र सरकार ने हाई कोर्ट से कहा, पबजी गेम को पूरी तरह से बैन करना मुश्किल

|

पबजी गेम की वजह से पूरे देश में काफी महीनों से विवाद चल रह है। देशभर के काफी सारे संस्थानों की मांग है कि इस गेम को बैन करना चाहिए क्योंकि इस गेम की वजह से बच्चों और युवाओं पर काफी बुरा प्रभाव पड़ रहा है। बच्चों और किशोर अवस्था वाले बच्चों की मानसिकता पर बुरा असर पड़ रहा है।

केंद्र सरकार ने हाई कोर्ट से कहा, पबजी गेम को पूरी तरह से बैन करना मुश्किल

 

इसके अलावा देशभर के अलग-अलग हिस्सों से ऐसी ख़बरें आई कि इस गेम को ना खेल पाने की वजह से कुछ बच्चें इतने बेताब हो गए कि किसी ने आत्महत्या कर ली, किसी ने अपने ही घर में चोरी कर ली, किसी ने खेल में मग्न होने के कारण पानी की जगह एसिड पी लिया। इस तरह की कई दुखद ख़बरे पूरे देश से आ रही है। इस वजह से इस गेम को बैन करने की मांग बढ़ गई है।

पबजी गेम को बैन करना मुश्किल: केंद्र सरकार

पबजी के बुरे प्रभाव को देखते हुए कोर्ट ने भी इस मामले में हस्तक्षेप किया। बॉम्बे हाई कोर्ट ने इस मामले में बोलते हुए केंद्र सरकार को कहा था कि इस गेम का सरकार रिव्यू करें और देखे कि इस को प्रोवाइड करवाने वाले प्रोवाइडर के लिए गाइडलाइन्स की जरूर है या नहीं है।

यह भी पढ़ें:- Flipkart National Shopping Days Sale: स्मार्टफोन समेत सभी प्रॉडक्ट्स पर भरपूर डिस्काउंट

टाइम्स ऑफ इंडिया के एक रिपोर्ट के मुताबिक अब केंद्र सरकार ने इस बारे में जवाब देते हुए कोर्ट से कहा है कि पबजी गेम को पूरी तरह से बैन करना बेहद मुश्किल है। केंद्र सरकार का कहना है कि इस गेम के बुरे प्रभाव से बचने के लिए माता-पिता की जागरुकता ज्यादा जरूरी है।

बॉम्बे हाई कोर्ट ने दिया आदेश

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के एक 11 साल के बच्चे ने कोर्ट में एक याचिका दायर करके इस गेम को बैन कराने की मांग की थी। उस बच्चे ने केंद्र सरकार को एक पत्र लिखकर इस गेम के बुरे प्रभाव के बारे में बताया था और इसे बैन करने की मांग की थी।

 

यह भी पढ़ें:- Amazon Freedom Sale 2019 आज से शुरू, 11 अगस्त तक सभी प्रॉडक्ट्स पर मिलेगा बेस्ट डिस्काउंट

बच्चे की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केंद्र सरकार को इस गेम का रिव्यू करने के लिए कहा था। ये आदेश बॉम्बे हाईकोर्ड की चीफ जस्टिस प्रदीप नंदराजोग और जस्टिस नितिन जामदार के बेंच द्वारा दिया गया था। कोर्ट ने सरकार को पबजी का स्टैंड रिकॉर्ड करने के लिए भी एक एफिडेविट फाइल करने के लिए कहा है।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
The central government has told the court that it is very difficult to ban the PUBG game completely. The central government says that awareness of parents is more important to avoid the bad effects of this game. The court, while hearing a petition filed in the Bombay High Court, ordered the government to review the PUBG game.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more