ग्रुपॉन और स्पाइस देंगी रेल टिकट बुक करने पर 100 रुपये की छूट

Posted By:

अगर आप ट्रेन से सफर करने की तैयारी कर रहे हैं तो ई कॉमर्स साइट ग्रुपॉन और स्‍पाइस सफर की मदद से रेल डील का फायदा उठा सकते हैं। पिछले साल प्याज वाली डील को मिली कामयाबी से उत्साहित होकर ई-कॉमर्स फर्म ग्रुपॉन इंडिया और स्पाइस सफर ने आपस में मिलकर नई रेल डील ऑफर पेश किया है। जिसके तहत कस्टमर्स को रेल टिकट्स बुक करने पर 100 रुपये का डिस्काउंट मिलेगा। यह डील गुरुवार से शुरू हो गई है। डील के तहत, ग्रुपॉन इंडिया हर दिन 9 रुपये में 2,000 कूपन ऑफर करेगी।

पढ़ें: आईफोन 6 क्‍लोन जो असली फोन को भी कर देगा फेल

कूपन के इस्तेमाल से कस्टमर्स स्पाइस सफर ऐप के इस्तेमाल से रेल टिकट्स बुक कर पाएंगे और उन्हें इस ट्रांजैक्शन पर 100 रुपये की छूट मिलेगी। नई रेल डील ऑफर के बारे में बारे में जानकारी देते हुए ग्रुपॉन के सीईओ अंकुर वारिकू ने बताया, 'पिछले साल हमने प्याज डील की थी, जिसके जरिए हमने 23,000 किलो प्याज बेचा था। इस बार भी हम इसी तरह की अलग डील लाए हैं। शायद ही ऐसा कोई व्‍यक्ति होगा जिसने रेल यात्रा न की हो, लेकिन हर बार उन्‍हें पूरी कीमत में टिकट खरीदना पड़ता है यानी उन्‍हें कभी डिस्काउंट नहीं मिलता।

पढ़ें: 6,999 रुपए के जियोमी स्‍मार्टफोन से टक्‍कर लेंगे ये 10 स्‍मार्टफोन

उन्होंने कहा कि इस डील से कंजयूमर्स को यह फायदा मिलेगा। डिस्काउंट का बोझ दोनों कंपनियां उठाएंगी, क्योंकि रेलवे ऐसी छूट नहीं देता। अंकुर ने इस बारे में और जानकारी नहीं दी। उन्होंने कहा, 'एयर ट्रैवल पर ऑफर्स हैं, लेकिन रेलवे पर कोई ऑफर नहीं है, जो देश में ट्रैवल करने का सबसे बड़ा जरिया है। हम यूजर्स के लिए इसमें बढ़िया ऑफर लाना चाहते थे।' ग्रुपॉन को उम्मीद है कि इस डील से स्टूडेंट्स और छोटे बिजनस ओनर्स को अट्रैक्ट करने में सफलता मिलेगी। गुरुवार से शुरू हुई यह डील 5 दिनों के लिए होगी।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

1

आईआरसीटीसी से टिकट बुक करने के लिए सबसे पहले www.irctc.co.in. में लॉग इन करें,

2

साइट में टिकट बुक करने से पहले आप आपको अपना एक एकाउंट बनाना होगा। इसके लिए आपको होम पेज में दिए गए साइन अप एकाउंट में जाकर क्लिक करना होगा।
साइन अप में क्लिक करने पर आपके सामने एक फार्म ओपेन होकर आएगा जिसे पूरा भरना होगा। यूजर को सिर्फ एक ही बार एकाउंट क्रिएट करना होगा।

3

अगर आपका पहले से एकाउंट है तो लॉगइन ऑपशन में अपना यूजर नेम और पासवर्ड डालकर लॉगइन करें।

लॉग इन करने के बाद दिए गए फार्म में ट्रेन नंबर डालकर प्रोसीड ऑप्‍शन पर क्लिक करिए

 

4

अगर आप चाहें तो सर्च इंजन में जाकर मौजूद ट्रेनों के बारे में जानकारी ले सकते हैं।

5

एक बार ट्रेन सलेक्‍ट करने के बाद बुक ऑप्‍शन पर क्लिक करिए और नीचे दिए गए बॉक्‍स में अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ के साथ कितने लोगों के लिए टिकट बुक कर रहें है के बारे में जानकारी भरें। अगर आप कोई दूसरी ट्रैन में टिकट बुक करना चाहते हैं तो रीसेट के ऑप्‍शन पर क्लिक करें।

एक बार फार्म भर जाने के बाद उसे अच्‍छी तरह से पढ़ लें। अब पेमेंट के लिए साइट में क्रेडिट कार्ड, डायरेक्‍ट डेबिट और कैश पेमेंट की सुविधा दी गई है जिसमें आप कोई भी एक ऑप्‍शन चूज कर सकते हैं। टिकट बुक होने के बाद आपके मेल एकाउंट में उसकी एक कॉपी आ जाएगी लेकिन उससे पहले आप साइट से ही टिकट में दिए गए पीएनआर नंबर और ट्रांसेंक्‍शन आईडी लिख लें।

 


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

हर दिन 2,000 कूपन दोपहर 12 बजे तक परचेज करने के लिए रखे जाएंगे। स्पाईस सफर के सीईओ साकेत शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में उपभोक्ता अपने बीलों के भुगतान से लेकर टिकट बुकिंग मोबाइल की जरीए कराता है। ग्रूपऑन संस्था के साथ किए गए अनुबंध में हमारा ध्येय अपने उपभोक्ता तक पहुंच कर उसकी टिकट बुकिंग को और सरल करना है। उन्होनें कहा कि देश में स्पाई सफर के 90 हजार उपभोक्ता हैं। पिछले साल प्याज डील के ऑफर को विशेष सफलता मिली थी, जिसके तहत 7 दिनों में 9 रूपए किलो के हिसाब से 3 हजार किलो प्याज बेचा था।

वह ऑफर इतना पॉपुलर हुआ था कि हमारी सर्वर साईट डाउन हो गई थी। वंरिकू ने कहा कि भारत गु्रपऑन के लिए फॉस्टेस्ट ग्रोइंग कंट्री है। यहां व्यवसाय में साल दर साल सौ प्रतिशत की रफ्तार से बढ़त देखी जा सकती है। ग्रूपऑन इंडिया फूड, बेवरेज और ट्रेवल्स की विभिन्न श्रेणियों में डेली ऑफर से के लिए जाना जाता हैं। 48 देशों स्थापित संस्था गु्रपऑन इंडिया के 20 करोड़ से ज्यादा उपभोक्ता हैं।

Please Wait while comments are loading...
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
Opinion Poll

Social Counting